Indian Army

भारतीय सेना (Indian Army) ने दुश्मन को कड़ा जवाब दिया। सीजफायर (Ceasefire) उल्लंघन में हवलदार निर्मल सिंह गंभीर रूप से घायल हो गये और बाद में उन्होंने दम तोड़ दिया।

आंकड़ों के मुताबिक, 2019 की तुलना में 2020 में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच ज्यादा मुठभेड़ हुई हैं। इसके अलावा 2020 में आईईडी और बाकी हथियार भी ज्यादा बरामद हुए हैं।

भारत और चीन के बीच सीमा पर कई बार भिड़ंत हो चुकी है। पिछले साल जून महीने में भी चीनी सेना ने भारतीय जवानों पर हमला कर दिया था जिसमें 20 सैनिक शहीद हो गए थे।

किसी भी देश की सेना ताकतवर तभी बनती है जब उसके पास घातक हथियार होते हैं। सेना के पास जितने एडवांस हथियार होंगे, दुश्मनों पर विजय पाना उतना ही आसान होगा। यही वजह है कि अमेरिकी सेना को आज पूरे विश्व में सबसे घातक सेना वाला देश माना जाता है।

भारतीय सेना के उप प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल चंडी प्रसाद महांति ने ओडिशा के युवाओं से आर्मी ज्वाइन करने की अपील की है।

इन स्पेशल जूतों की खासियत ये है कि ये दुश्मन पर हमला भी कर सकते हैं और उनके आने की सूचना जवानों को देकर अलर्ट भी कर सकते हैं।

पाकिस्तान ऊंचाई वाले क्षेत्रों पर था और भारतीय सेना को चढ़ाई करते हुए दुश्मनों तक पहुंचना पड़ता था। इस दौरान सैनिकों को भारी समस्याओं से जूझना पड़ा था।

सेना ने वक्त के साथ-साथ अपनी कमजोरियों पर सुधार किया है। वक्त रहते कई स्तर पर काम किए गए हैं और भारत की मौजूद सैन्य क्षमता काफी बढ़िया मानी जाती है।

Army Day: 15 जनवरी (1949) को इंडियन आर्मी पूरी तरह ब्रिटिश थल सेना से मुक्त हुई थी। इसी दिन से भारतीय सेना की अपनी अलग पहचान बनी थी।

भारतीय रेलवे (Indian Railway) की एक आर्मी विंग भी होती है, जो भारतीय सेना (Indian Army) की मदद के लिए है। यहां तक कि इस विंग ने लॉकडाउन के दौरान भी काम किया था।

पाकिस्तान आतंकी घुसपैठ करवाने के लिए अक्सर सीजफायर तोड़ता है। इस बार आतंकी गणतंत्र दिवस के मौके पर किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की साजिश रच रहे हैं।

भारतीय सेनाएं बीते कुछ समय में पाकिस्तान के आतंकी संगठनों के खिलाफ जबरदस्त एक्शन ले चुकी हैं। सेना द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) और एयर स्ट्राइक (Air Strike) तक की गई हैं।

भारतीय नौसेना (Indian Navy) दुनिया के खतरनाक सेनाओं में से एक मानी जाती है। नौसेना के पास कई ऐसे हथियार हैं, जिनका नाम सुनते ही दुश्मन थर-थर कांप उठते हैं। ऐसा ही एक हथियार 'वरुणास्त्र' (Varunastra) भी है।

133 देशों की इस रैंकिंग में पहला स्थान अमेरिका का है। इसके बाद रूस और चीन है। चौथे नंबर पर भारतीय सेना (Indian Army) है। पाकिस्तान 10वें नंबर पर है।

भारतीय सीमाओं पर ड्रोन (Drone) की भूमिका काफी अहम होती जा रही है। पाकिस्तान और चीन की सीमाओं पर किसी तरह की गतिविधि को इन ड्रोन के जरिए देखा जा सकता है।

भारतीय सेना (Indian Army) दुनिया की सबसे घातक सेनाओं में शुमार है। सेना के जवान भारत मां की रक्षा के लिए किसी भी हद तक गुजरने के लिए तत्पर रहते हैं। सेना के पास कई घातक हथियार हैं, जो दुश्मनों के छक्के छुड़ा सकते हैं।

सेना के लिए डबल हम्पल कैमल यानी दो कूबड़ वाले ऊंट  की व्यवस्था की गई है। इनके जरिए भारी भरकम सामान को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाया जाता है।

यह भी पढ़ें