Kashmir

यूपी के बागपत के रहने वाले जवान पिंकू कुमार (Pinku Kumar) शनिवार रात कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान शहीद हो गए।

भारत के खिलाफ लगातार साजिश रचने के लिए बदनाम पड़ोसी देश पाकिस्तान (Pakistan) ने एक बार फिर कश्मीर का राग अलापा है।

कश्मीर का मुद्दा दुनियाभर की नजरों में रहता है। इस बीच खबर मिली है कि भारत जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए जो कदम उठा रहा है, उसका अमेरिका ने स्वागत किया है।

पाकिस्तान (Pakistan) एक बार फिर कश्मीर का मसला उठा रहा है। इस बार ये मसला खुद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने उठाया है।

भारतीय सेना (Indian Army) के जवान इस महिला को स्ट्रेचर पर रखकर 6 किलोमीटर तक पैदल चले और उसे कुपवाड़ा स्थित उसके घर पहुंचाया।

Jammu and Kashmir: सुरक्षाबल आतंकियों (Terrorists) की हेल्पलाइन को खत्म करने का काम कर रहे हैं, जिससे आतंकियों को मिलने वाली मदद को रोका जा सके।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान (Pakistan) सोशल मीडिया का प्रयोग करके गलत जानकारियां फैला रहा है और नई भर्ती कर रहा है। वह कश्मीर में अस्थिरता फैलाना चाहता है।

कश्मीर की महिला अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी (Asiya Andrabi) के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा चलेगा। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने अंद्राबी के खिलाफ भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने, राजद्रोह और आतंकी साजिश रचने के आरोप में मुकदमा चलाने की मंजूरी दे दी है।

Kashmir: कश्मीर में ये 3 आतंकी हमले अलग-अलग जगह हुए हैं। हालांकि इन हमलों में सुरक्षाबलों को कोई विशेष नुकसान नहीं पहुंचा है।

Kashmir: कश्मीर में पिछले 30 सालों में विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं की रक्षा करते हुए जम्मू-कश्मीर पुलिस के करीब 1700 पुलिसकर्मी शहीद हुए हैं।

डोनाल्ड ट्रंप जूनियर (Donald Trump Jr) द्वारा दिखाए गए दुनिया के नक्शे में जो बाइडेन और अपने पिता डोनाल्ड ट्रंप के समर्थक देशों को लाल और नीले रंगों में बांटा है। मैप में भारत को अपने पिता के विरोधी उम्मीदवार जो बाइडेन का समर्थक देश बताया गया है।

आतंकी (Terrorists) जिस गाड़ी में आए थे उसी में अच्छाबल इलाके की ओर भाग निकले। इलाके के तिलवनी गांव से उस गाड़ी को बरामद कर लिया गया है। आतंकी जिस आल्टो कार में सवार होकर आए थे वह खुर्शीद अहमद वानी के नाम रजिस्टर्ड है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने घाटी की सुरक्षाव्यवस्था के मद्देनजर कश्मीर (Kashmir) के कुछ अलगाववादियों (Separatists) को रडार पर ले लिया है। दरअसल, इस बात का खुलासा हुआ है कि अलगाववादी आतंकी संगठनों की स्थानीय भर्तियों के लिए दस्तावेजों की व्यवस्था कर रहे हैं।

घाटी (Kashmir) के युवा अब आतंकवाद से दूर जा रहे हैं। वे सरकारी नौकरियों की तैयारी कर रहे हैं और अपने भविष्य को संवार रहे हैं। आज कश्मीर में युवा राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेल में भी आगे जा रहे हैं।

सेना (Indian Army) जब भी पाक के खिलाफ जंग के मैदान में उतरती है हमेशा फतह हासिल करती आई है। पाकिस्तान ने साल 1965 में गुस्ताखी कर भारतीय सेना के जवानों को ललकार दिया था। 

कश्मीर घाटी (Kashmir) में सुरक्षाबलों की सख्ती देखकर अब आतंकियों (Terrorists) के पसीने छूट रहे हैं। जवानों द्वारा चलाए जा रहे अभियानों से आतंकियों के पैर उखड़ने लगे हैं।

चारू सिन्हा 1996 बैच की तेलंगाना कैडर की IPS अधिकारी हैं। चारू के अलावा 6 IPS और 4 सीनियर कैडर के अधिकारियों को भी CRPF में शामिल किया गया है।

यह भी पढ़ें