Jharkhand Police

झारखंड (Jharkhand) की लातेहार जिला पुलिस और लातेहार अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बिरेंदर राम 30 अक्टूबर को सदर प्रखंड लातेहार के पतरातू के रहने वाले होमगार्ड के शहीद (Martyr) जवान सकिंदर सिंह के घर पहुंचे।

झारखंड (Jharkhand) में नक्सलियों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। पुलिस नक्सलियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है।

Jharkhand: छापामारी दल ने वैन को रोकने की कोशिश की तो उसका चालक उतरकर भागने लगा। अंधेरे की वजह से चालक भागने में सफल रहा।

नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ पूरे प्रदेश में अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के तहत नक्सलियों के खिलाफ झारखंड पुलिस को बड़ी सफलता मिली है।

खूंटी पुलिस को दक्षिणी छोटानागपुर के रीजनल कमेटी के सदस्य जीत राय मुंडा समेत 7 नक्सलियों (Naxalites) को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है।

चाईबासा जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्र में पिछले तीन महीने के दौरान नक्सलियों और पुलिस के बीच दर्जनों मुठभेड़ हुई हैं।

Jharkhand: इनमें पीराटाड़ गिरिडीह मिसिर बेसरा, अनल दा उर्फ तूफान और टुंडी धनबाद का रहने वाला प्रयाग मांझी शामिल है। ये तीनों नक्सली एक-एक करोड़ के इनामी हैं।

थोड़ी ही देर में कई किलोमीटर तक हाईवे पर गाड़ियों की लंबी कतार लग गई।  सूचना पाकर अधिकारी आए और किसी तरह समझा-बूझकर मामला शांत किया।

Pathalgadi आंदोलन की मास्टर माइंड Belosa Babita Kachhap को गुजरात ATS ने धर दबोचा। दो अन्य नक्सली भी गिरफ्तार। बबीता के खिलाफ दर्ज हैं कई संगीन मामले।

झारखंड (Jharkhand), बंगाल (Bengal) और ओडिशा (Odisha) में कई वारदातों को अंजाम देने वाले हार्डकोर इनामी नक्सली (Naxali) सुभाष मुंडा को पुलिस (Police) ने गिरफ्तार कर लिया है।

झारखंड पुलिस (Jharkhand Police) राज्य की जनता के लिए हर वक्त तैनात है। लोगों की सेवा के लिए पुलिस प्रशासन मुस्तैद है। इसी कड़ी में गिरिडीह पुलिस के एक सराहनीय कदम ने नक्सल क्षेत्र के ग्रामीणों का दिल जीता है।

डुमरी के अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र (Naxal Area) टेसाफुल्ली में गिरिडीह (Giridih) पुलिस ने लोगों के बीच राशन, दवाईयों सहित जरूरत के सामान का वितरण किया।

झारखंड के डीजीपी कमल नयन चौबे (DGP Kamal Nayan Choubey) पुलिस पदाधिकारियों के साथ बैठक करने लातेहार पहुंचे। डीजीपी ने 27 फरवरी को पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक की।

'सिर्फ सच' की खबर पर संज्ञान लेते हुए झारखंड पुलिस (Jharkhand Police) ने कार्रवाई की है। दरअसल, झारखंड के नक्सल प्रभावित लातेहार जिले में PLFI के नक्सलियों द्वारा मचाए गए उपद्रव पर सिर्फ सच ने एक खबर प्रकाशित की थी।

झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम में उपमुखिया समेत 7 लोगों की हत्या कर दी गई। इन लोगों की हत्या 19 जनवरी को पत्थलगड़ी (Pathalgadi) का विरोध करने पर की गई थी।

झारखंड के हजारीबाग जिले में नक्सलियों ने एक बार फिर जबरदस्त तरीके से अपनी मौजूदगी दर्ज कराई है। इस बार नक्सलियों ने यहां एक, दो नहीं बल्कि 7 वाहनों को आग के हवाले कर दिया है।

झारखंड पुलिस नक्सलियों के मुकाबले के लिए आंध्र और तेलंगाना की तर्ज पर काम कर रही है। इसके तहत स्मॉल एक्शन टीमें बनायी गई हैं। पहली बार नक्सली दस्तों के बजाय शीर्ष नक्सलियों को टारगेट कर अभियान चलाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें