Jammu and Kashmir

सीमा पार लॉन्चिंग पैड्स पर मौजूद विदेशी मूल के आतंकी घातक हथियारों से लैस हैं। उनमें अधिकतर अफगानिस्तान से लौटे हैं, जो पीओके स्थित आईएसआई के ट्रेनिंग सेंटर पर हमले की तैयारी में हैं। 

सुरक्षाबलों को इस गिरफ्तारी के दौरान आतंकी (Militant) के पास से एक पिस्टल, दो मैगजीन, 16 कारतूस, गोला-बारूद के अलावा अन्य आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई है।

गिरफ्तार तीनों आतंकी मददगार (Terrorist Associates) पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के लिए काम करते थे। इनमें से एक पूर्व आतंकी भी शामिल है।

हसनपोरा इलाके में करीब 8 घंटे चली सुरक्षाबलों और आतंकियों (Terrorists) के बीच मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकी मार गिराये गये हैं। इस दौरान भारी संख्या में हथियार और गोला-बारूद भी बरामद हुआ है।

अभी भी मकान में एक आतंकी छिपा हुआ है और वह रह-रह कर जवानों को निशाना बनाते हुये फायरिंग कर रहा है। लेकिन जवान उससे सरेंडर करवाने के लिए स्थानीय लोगों की मदद ले रहे हैं।

मुठभेड़ के बाद छानबीन में पता चला कि मारे गये तीनों आतंकी प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सदस्य थे। इनमें से एक पाकिस्तानी नागरिक है जो कि जैश का कुख्यात कमांडर भी है।

गिरफ्तार आतंकी सहयोगियों की पहचान आदिल अली निवासी आचन और आसिफ गुलजार निवासी हाजीदरपोरा के रूप में हुई है। पुलिस ने इनके कब्जे से कई आपत्तिजनक चीजें बरामद की है।  

एक दिन पहले ही राज्य में एक घंटे के अंतराल पर दो आतंकी हमले हुये थे। जिसमें जम्मू कश्मीर पुलिस के एक असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर के अलावा एक आम नागरिक की मौत हो गई थी।

जम्मू कश्मीर में हुये इस आंतकी हमले पर अफसोस जताते हुये ले. जनरल मनोज सिन्हा ने बताया कि इन हमलों में शामिल आतंकियों के खिलाफ जल्द कार्रवाई की जायेगी।

अन्य घटना में पुलिस ने बारामूला के क्रालहार रेलवे क्रॉसिंग पर लगे बैरीकेट से एक लश्कर के आतंकी को गिरफ्तार किया है। जिसकी पहचान फैजल अहमद डार के तौर पर हुई है।

गिरफ्तार दोनों जासूसों (Spy) पर सैन्य प्रतिष्ठानों की वीडियो बनाकर पाकिस्तान में बैठे आईएसआई व आतंकी आकाओं को भेजने का आरोप है। इस काम के लिए इन दोनों को हवाला के जरिये मोटी रकम भी मिलती थी। 

आईएसआई इन मासूम बच्चों को भविष्य में आतंकी बनाने लिए चीन और तुर्की के हाईटेक हथियार‚ बम बनाने‚ जीपीएस चलाने जैसे अन्य खतरनाक हथियारों की ट्रेनिंग दे रहा है।

पुलवामा पुलिस और सुरक्षा बलों ने लश्कर के दो आतंकी सहयोगियों (Terrorist Associates) आमिर बशीर और मुख्तार भट को गिरफ्तार किया। इनके कब्जे से दो आईईडी बरामद किए गए।

आईएसआई (ISI) के बैठक के बाद इस्लामाबाद के एक मरकज में राउफ असगर ने जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-E-Mohammed) के बड़े आतंकी मुफ्ती अजघर खान कश्मीरी और क्वारी जरार के साथ बैठक कर आतंकी हमले की रूपरेखा तैयार की है।

आतंकवादी हाफिज के पास से सुरक्षाबलों ने एक पिस्तौल और सात गोलियां भी जब्त की है, जबकि उसके द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर कत्सू जंगल से एक एके-47 रायफल,  दो मैगजीन और 40 गोलियां भी बरामद हुई हैं।

गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि घाटी के लोगों को गुमराह किया जाता है। हमारी सरकार का प्रयास है कि कश्मीर का विकास देश के अन्य हिस्सों से अधिक हो।

भट्टा दुर्रियां जंगल में आतंकियों (Terrorists) की गोलीबारी में दो पुलिसकर्मी, सेना का एक जवान और उनके द्वारा गिरफ्तार लश्कर-ए-तैयबा का पाकिस्तानी आतंकवादी जिया मुस्तफा घायल हो गया।

यह भी पढ़ें