सच के सिपाही

3 मई को शहीद शंकर सिंह (Martyr Shankar Singh) का शव जैसे ही नाली गांव पहुंचा, शहीद की मां जानकी देवी, पत्नी इंद्रा, पिता मोहन सिंह और 6 साल का बेटा हर्षित बेसुध हो गए। शहीद की पत्नी और मां काफी देर तक शहीद के पार्थिव शरीर के साथ लिपटकर रोती रहीं।

हंदवाड़ा में हुई मुठभेड़ में कर्नल आशुतोष शर्मा (Colonel Ashutosh Sharma) के अलावा मेजर अनुज सूद, नायक राजेश और लांस नायक दिनेश भी शहीद हो गए हैं। मुठभेड़ में जम्मू-कश्मीर पुलिस के उपनिरीक्षक शकील काजी भी शहीद हुए हैं।

देश की सेवा के लिए 42 नए युवा अधिकारी 24 अप्रैल को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) में शामिल हुए। COVID-19 के चलते सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए इन प्रशिक्षु अधिकारियों की पासिंग आउट परेड वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई।

जम्मू कश्मीर (Jammu-Kashmir) के बारामूला में हुए आतंकी हमले (Terrorist Attack) में बिहार का एक जवान शहीद हो गया। सीआरपीएफ (CRPF) के शहीद जवान का नाम राजीव शर्मा है।

नाजिर हुसैन के परिवार ने कश्मीर स्थित सीआरपीएफ (CRPF) की 'मददगार' हेल्पलाइन को सोशल मीडिया पर एक मेसेज भेजा था। मेसेज में नाजिर ने कहा था कि उन्हें किडनी की बीमारी से जूझ रहे एक मरीज के लिए 'एबी नेगेटिव' रक्त की तत्काल आवश्यकता है।

कोरोना वायरस (Corona Virus) के चलते देश भर में जारी लॉकडाउन (Lock Down) में किसी जरूरतमंद को कोई तकलीफ न हो, इसके लिए सीआरपीएफ (CRPF) के जवान मुस्तैदी से जुटे हुए हैं।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के केरन सेक्टर में हुई आतंकी मुठभेड़ (Terrorist Encounter) में शहीद हुए छत्रपाल सिंह (Martyr Chhatrapal Singh) का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया गया।

शहीद अमित अण्थवाल (Martyr Amit Anthwal) को उनके पैतृक गांव में अंतिम विदाई दी गई। सेना के वाहन से शहीद अमित अण्थवाल का पार्थिव शरीर उनके घर लाया गया।

आज देश के सबसे बड़े केंद्रीय अर्धसैनिक बल केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) का 'शौर्य दिवस' है। 9 अप्रैल की तारीख को CRPF हर साल अपने 'शौर्य दिवस' के रूप में मनाती है।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के केरन सेक्टर में आतंकवादियों से मुठभेड़ (Terrorist Encounter) में उत्तराखंड के जवान हवलदार देवेंद्र सिंह (Martyr Devendra Singh) शहीद हो गए।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के केरन सेक्टर में आतंकवादियों से मुठभेड़ (Terrorist Encounter) में हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले के घुमारवीं के देहरा गांव के सूबेदार संजीव कुमार (43) भी शहीद हो गए।

हम बात कर रहे हैं बीते 5 अप्रैल को जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में शहीद हुए बालकृष्ण की। हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के पुईद गांव के रहने वाले बालकृष्ण भारतीय सेना में पैराट्रूपर थे।

भारतीय सेना (Indian Army) की जांबाजी के किस्से तो सबने सुने होंगे। अपनी सरहद की निगहबानी के लिए जान की परवाह ना करने वाले सेना के दिलेर जवान बेगानी सरहदों पर भी किस कदर मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी को अंजाम देते हैं, इसका एक लंबा इतिहास है।

रोना से बचने के लिए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) ने भी एक बहुत ही प्यारा गीत बनाया है। इस गीत के जरिए CRPF का बैंड लोगों को कोरोना से बचने का संदेश दे रहा है।

1950 से लेकर अब तक भारतीय सेना के जवानों ने संयुक्त राष्ट्र के कुल 71 शांति मिशन में हिस्सा लिया है। अब तक 10 लाख से ज्यादा भारतीय जवान संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन में अपने फर्ज को अंजाम दे चुके हैं।

सशस्त्र सीमा बल (SSB) के जवानों ने एक बार फिर मानवता की मिसाल पेश की है। एक पूर्व नक्सली की मदद कर सुरक्षा बल के जवानों ने दुर्दांत नक्सलियों को समाज का आईना दिखा दिया है।

रक्षा सचिव हरीश सरीन को सैम नालेक शॉ से मांगनी पड़ी माफी

यह भी पढ़ें