Uttarakhand

कोरोना (Coronavirus) संक्रमण से जूझ रहे उत्तराखंड (Uttarakhand) के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (CM Trivendra Singh Rawat) को दिल्ली के एम्स के लिए रेफर किया गया है। उनके साथ उनकी पत्नी और बेटी भी साथ गई हैं।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, आज मैंने कोरोना टेस्ट करवाया था और रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मेरी तबीयत ठीक है और लक्षण भी नहीं हैं।

उत्तराखंड (Uttarakhand) के चमोली जिले के देवाल ब्लॉक का घेस गांव विकास की नई इबारत लिख रहा है। गांव के लोग तरक्की की राह पर आगे बढ़ रहे हैं। परंपरागत खेती करने वाले गांव वालों ने अब अपना पूरा ध्यान औषधीय पोधों की खेती पर लगा लिया है।

ITBP की पर्वतारोही टीम ने कोरोना काल में एक कारनामा कर दिखाया है। इस टीम ने उत्तराखंड में गंगोत्री द्वितीय शिखर (21,615 फीट) पर चढ़ाई पूरी की है।

Bindukhatta: इस गांव को मिनी उत्तराखंड के नाम से भी जाना जाता है और यहां की कुल आबादी करीब 1 लाख है। अशोक चक्र विजेता मोहन नाथ गोस्वामी इसी गांव के थे।

नेगी जनवरी में LoC पर हुए हिमस्खलन का शिकार हो गए थे। इसके बाद से ही उनकी खोज जारी थी लेकिन जब सेना को उनके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी तो सेना ने उन्हें शहीद घोषित कर दिया।

अक्षय पालमपुर के पास कंडबाड़ी क्षेत्र के स्पैडू के रहने वाले थे। वह सिर्फ 23 साल के थे। पिछले चार सालों से अक्षय सेना में थे। अक्षय ने शुरू से ही भारतीय सेना में जाने का मन बना लिया था। सेना में जाना उनका बचपन का ख़्वाब था।

यह भी पढ़ें