Naxalism

नक्सली बुधरा (Naxalite) के गांव में उसकी मांं के अलावा उसकी पत्नी, भाई और परिवार के अन्य सदस्य भी रहते हैं। परिवार वालों के अनुसार उनका बेटा बुधरा कब नक्सली बन गया इस बात की उनको भनक भी नहीं लगी। आज से करीब 10 साल पहले वह अचानक ही घर छोड़कर चला गया और कई दिनों बाद परिवारवालों को उसके नक्सली बनने की सूचना लगी।

पुलिस गिरफ्त में आए इस नक्सली (Naxali) के खिलाफ लातेहार समेत आस-पास के जिलों के कई थानों में आपराधिक मामले दर्ज हैं।  बता दें की यह कुख्यात कई वर्षों से पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ था

पुलिस गिरफ्त में आया ये कुख्यात नक्सली साल 2017 में  बिहार राज्य के औरंगाबाद जिले के खोटवा-बथान के मदनपुर के जंगलों में नक्सली (Naxalite) नितेश जी के सदस्य के साथ पुलिस मुठभेड़ की घटना में शामिल था।

ये मुठभेड़ शनिवार शाम करीब सात बजे सुकमा जिले के टोंगपाल इलाके के मेटापारा के जंगलों में सर्च ऑपरेशन के दौरान हुई। अधिकारियों के अनुसार केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल  (CRPF) की 227वीं बटालियन और राज्य पुलिस की एक संयुक्त टीम के इस मुठभेड़ में एक नक्सली ढेर हो गया।

कोरोना से जंग के बीच गिरिडीह पुलिस व सीआरपीएफ (CRPF) ने भेलवाघाटी के अरवरा जंगल से बरामद किया बड़े पैमाने पर विष्फोटकों का जखीरा। सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने के इरादे से माओवादियों (Maoist) ने जंगल में छिपाकर रखा था विस्फोटक।

यह नक्सली (Naxali) गिरिडीह जेल ब्रेक कांड एवं बगोदर के पूर्व विधायक कॉमरेड महेंद्र सिंह की हत्या में भी शामिल था। फिलहाल पुलिस को इस नक्सली से  क्षेत्र में नक्सलियों द्वारा नई गतिविधियों  के बारे में काफी जानकारियां हासिल हुई है,

अब वह नक्सलियों की हरी या काली वर्दी नहीं पहनाता बल्कि फोर्स की कामाफ्लॉज वर्दी पहनकर नक्सल विरोधी ऑपरेशनों में लाल आतंक (Naxalism) के खिलाफ मजबूती से खड़ा है।

इस अचानक हमले के जवाबी कार्रवाई में 5-6 नक्सलियों (Naxali) के भी मारे जाने की सूचना है। मारे गए नक्सलियों में से एक नक्सली का शव जवानों ने बरामद कर लिया है।

नक्सलवाद (Naxalism) को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए छत्तीसगढ़ के धुर नक्सल प्रभावित जिला दंतेवाड़ा की पुलिस ने नई मुहिम शुरू की है।

पुलिस ने कुर्की की कार्रवाई कर न्यायालय में आरोप पत्र दायर किया है। इन 13 नक्सलियों (Naxali) के खिलाफ 2005 से लेकर 2016 तक आरोप पत्र न्यायालय में दाखिल किया गया था।

पश्चिमी सिंहभूम के उपायुक्त ने गृह कार्य एवं आपदा प्रबंधन विभाग को पत्र लिखकर 12 नक्सलियों (Naxali) के विरुद्ध देशद्रोह का मुकदमा चलाने की अनुमति मांगी है।

पुलिस ने उग्रवादी संगठन जेजेएमपी (JJMP) के दो उग्रवादियों (Maoists) को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार उग्रवादियों (Maoists) में राजू राम और नीरज राम शामिल हैं। दोनों महुआटांड़ के ही रहने वाले हैं।

दंतेवाड़ा के एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने भी सुनैना (Sunaina Patel) की काफी तारीफ करते हुए कहा, “सुनैना इस टीम की काफी तेज तर्रार महिला कमांडो है।

गिरफ्तार नक्सली (Naxali) पर 2018 में प्रतापपुर के नारायणपुर गांव में पुल निर्माण में लगे जेसीबी व अन्य मशीनों और कुंदा के पिंजनी में बिजली काम में लगे ट्रैक्टर को जलाने का आरोप तो है

नक्सली (Naxali) सिद्धू कोड़ा झारखंड के गिरिडीह सीमांचल क्षेत्र का ही रहने वाला है शुरुआती तौर पर सिदो ने नक्सली संगठन एनसीसी में अपना वर्चस्व कायम करने के लिए बड़े-बड़े कांड को अंजाम दिए

बिहार के गया जिले में संदिग्ध नक्सलियों (Naxali) ने एक स्कूल इमारत को उड़़ा दिया और मौके पर कथित रूप...

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने पीएलएफआई के सात सदस्यों के खिलाफ अनुपूरक आरोप–पत्र दाखिल की है। एजेंसी ने शनिवार को...

यह भी पढ़ें