Air Strike

इजरायल बीते 6 अगस्त से हमास के ठिकानों पर इसी तरह से हमलावर है। गाजा पट्टी से आतंकवादी समूहों ने दक्षिणी इजरायल में आग लगाने वाले विस्फोटक सामग्री भेजी थी।

पिछले साल फरवरी में भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) ने एयर स्ट्राइक (Air Strike) कर पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों को ध्वस्त कर दिया था। इंटेलीजेंस और काउंटर टेरर ऑपरेटिव्स के मुताबिक, अब वह फिर से सक्रिय हो गया है।

एयर फोर्स डे की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने बताया कि पिछले एक साल में भारतीय वायु सेना ने कई बड़ी उपलब्धियां हासिल की हैं।

23 सितंबर को काउंसिल ऑफ फॉरेन रिलेशंस (Council on Foreign Relations) में कई मुद्दों पर अपनी बात रखते हुए इमरान खान ने वह कर दिया जिसे पाकिस्तान हमेशा से नकारता आ रहा है।

भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने बालाकोट एयरस्ट्राइक ( Air Strike) को लेकर कुछ खास बातें शेयर की हैं। एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने बताया कि भारतीय वायु सेना ने रात के वक्त ही क्यों बालाकोट में कार्रवाई की थी?

Independence Day 2019: पुलवामा आतंकी हमले के बाद बालाकोट एयर स्ट्राइक को अंजाम देने वाले वायुसेना के 5 जांबाज पायलटों को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर वायुसेना मेडल से सम्मानित किया जाएगा।

सर्विलांस के मुताबिक आतंकी कैम्प में 300 मोबाइल फोन के एक्टिव होने की बात सामने आई थी, जिससे सीधे तौर पर पता चलता है कि वहां कितने आतंकी मौजूद थे।

19वीं सदी में सिख और मराठा शासकों को मिटाने और इस्लामिक राष्ट्र की स्थापना के उद्देश्य से सैयद अहमद बरेलवी ने बालकोट को जिहाद का केंद्र बनाने की कोशिश की थी।

पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर की सुरक्षा बढ़ा दी है। मसूद अजहर को इस वक़्त दूर कहीं सेफ़ ज़ोन में रखा गया है।

यह भी पढ़ें