एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने बालाकोट एयरस्ट्राइक को लेकर शेयर की बड़ी बात…

india today conclave 2019, air chief marshal bs dhanoa, balakot air strike, sirf sach, sirfsach.in
एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ

भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने बालाकोट एयरस्ट्राइक ( Air Strike) को लेकर कुछ खास बातें शेयर की हैं। एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने बताया कि भारतीय वायु सेना ने रात के वक्त ही क्यों बालाकोट में कार्रवाई की थी? उन्होंने कहा कि अच्छे तकनीकि वाले देश रात में ही हमला करते हैं। आप गल्फ वॉर को ले लें, उसकी शुरुआत रात में ही हुई थी। जब आप रात में हमला करते हैं तो इसका मतलब है कि आपके पास अच्छी तकनीक है। दिन में हमला करने का मतलब है कि आपके पास तकनीक नहीं है। एयर चीफ मार्शल ने इंडिया टुडे कॉन्क्लेव 2019 में ये बातें कहीं।

दरअसल, कॉन्क्लेव में बीएस धनोआ पाकिस्तान के उस आरोप का जवाब देते हुए यह बातें कहीं जिसमें पाकिस्तान ने कहा था कि भारत रात में हमला करके भाग गया। इस साल 14 फरवरी को पुलवामा में आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर बम बरसाए थे। वायु सेना प्रमुख ने सख्त लहजे में कहा कि यह पाकिस्तान का बयान था। हमने उनको चुनौती दी थी। वे हमें चुनौती नहीं दे पाए। हम अपने मकसद में कामयाब हुए। ये बड़ी बात है। एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कहा कि ऑपरेशन के बारे हम जानकारी नहीं दे सकते। कौन सा हथियार हमने इस्तेमाल किया, इसके बारे में भी हम यहां नहीं बता सकते।

वहीं, पाकिस्तान के कई मंत्रियों के परमाणु युद्ध वाले बयान पर उन्होंने कहा कि हम किसी भी मुकाबले के लिए तैयार हैं। आखिरी फैसला सरकार को लेना है। हमें अपनी क्षमताओं के बारे में अच्छी तरह पता है। 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर जैश के आतंकियों ने हमला किया गया था। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले के 13 दिन बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर पाकिस्तान के आतंकी कैंपों को निशाना बनाया था और उन्हें तबाह कर दिया था। पाकिस्तान ने इस हमले के बाद बौखलाहट में आकर दूसरे दिन भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की थी। लेकिन भारतीय वायुसेना ने उसकी यह कोशिश नाकाम कर दी थी।

पढ़ें: अमेरिकी अखबार का दावा, POK में आजादी की मांग बढ़ने के बाद पाकिस्तान ने तैनात की सेना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here