PoK. LoC

एक तरफ खुद को आतंक पीडित बताकर पाकिस्तान एफएटीएफ से बचता आ रहा है। ये पूरी तैयारी पाकिस्तानी हुकूमत ने आईएसआई और सेना के साथ मिलकर की है।

खुफिया सूत्रों के अनुसार पाकिस्तानी सेना जेल से भी आतंकी बनाने का दांव खेल रही है। पाक जेल में बंद मुजरिम की सजा माफ करना और रिहाई का आश्वासन देते हुए पैसे का भी लालच दिया जा रहा है।

इस घटना के बाद मृतक के शव को कब्जे में ले लिया गया है। जिसके पास से पाकिस्तानी मुद्रा के 200 रुपये मिले हैं। वहीं ऐसा माना जा रहा है कि मारे गये घुसपैठिये की मानसिक हालत ठीक नहीं थी।

आतंकियों (Militants) के स्थानीय स्लीपर सेल को सुरक्षाबलों (Security Forces) ने नष्ट कर दिया है इसलिए ये आतंकी अपने नापाक मंसूबे को पूरा करने के लिए स्थानीय अपराधियों की मदद लेने की कोशिश में हैं।

पाकिस्तान (Pakistan) ने 12.7 एमएम स्नाइपर राइफल साउथ अफ्रीका की एक कंपनी से खरीदने के कॉन्ट्रैक्ट पर हस्ताक्षर किया है। इसके साथ ही भारी संख्या में रूस से मिनी यूएवी S-250 भी खरीदने जा रहा है।

यह भी पढ़ें