दोनों हाथों से हथियार चलाने में है माहिर, शादी के दिन खूंखार महिला नक्सली गिरफ्तार

बिहार (Bihar) के औरंगाबाद जिला पुलिस (Police) और सीआरपीएफ (CRPF) के जवानों ने 11 जून को एक महिला नक्सली (Woman Naxali) के गिरफ्तार किया। गिरफ्तार महिला नक्सली का नाम पुष्पा उर्फ गौरी है। सुरक्षाबलों ने इसकी गिरफ्तारी इसके घर से ही की है।

Woman Naxali

शादी के दिन महिला नक्सली गिरफ्तार।

बिहार (Bihar) के औरंगाबाद जिला पुलिस (Police) और सीआरपीएफ (CRPF) के जवानों ने 11 जून को एक महिला नक्सली (Woman Naxali) के गिरफ्तार किया। गिरफ्तार महिला नक्सली का नाम पुष्पा उर्फ गौरी है। सुरक्षाबलों ने इसकी गिरफ्तारी इसके घर से ही की है। गिरफ्तार महिला नक्सली मदनपुर थाना के लंगुराही गांव की रहने वाली है। 11 जून को उसकी शादी होनेवाली थी। लेकिन इससे पहले ही वह पुलिस के हत्थे चढ़ गई। इस महिला नक्सली पर गया और औरंगाबाद जिले में कई संगीन वारदातों में शामिल होने का आरोप है।

शादी के दिन हुई गिरफ्तार: भाकपा माओवादी के सक्रिय दस्ता की सदस्य पुष्पा उर्फ गौरी को सीआरपीएफ की टीम ने शादी के दिन ही गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार, 11 जून को महिला नक्सली (Woman Naxali) की शादी होने वाली थी। शादी की भनक सुरक्षाबलों को जैसे ही लगी गिरफ्तारी को लेकर कार्ययोजना बनाई गई। सुरक्षाबलों ने प्लानिंग कर लंगुराही गांव के आसपास के जंगलों में मोर्चा संभालते हुए महिला नक्सली के घर पर छापेमारी कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

सुकमा में तीन इनामी सहित 5 नक्सलियों ने किया सरेंडर, आईईडी ब्लास्ट और हत्या जैसी वारदातों में थे शामिल

हथियाबंद दस्ता की सदस्य: बताया जाता है कि गिरफ्तार महिला नक्सली (Woman Naxali) हथियाबंद दस्ता में रहती है और खुद भी अत्याधुनिक हथियारों जैसे इंसास और एके-47 से लैस रहती है। हालांकि, पुलिस हथियार बरामद नहीं कर सकी है। शायद, शादी की वजह से उसने अपना हथियार अपने साथी के पास रख दिया हो।

कई बड़ी वारदातों में रही है शामिल: पुष्पा उर्फ गौरी पर साल 2017 में आमस सोलर प्लांट ब्लास्ट, सुदी बिगहा की घटना सहित औरंगाबाद और गया में लगभग 7-8 नक्सली मामले दर्ज हैं। पुष्पा नक्सल अभियान के बड़े नेता संदीप यादव के दस्ते में इंसास राइफल लेकर चलती थी। वह संगठन की भरोसेमंद सदस्यों में एक थी।

नजीर! नक्सली हमले में शहीद हुए थे पति, वीरांगना ने कोविड-19 से लड़ाई में की लाखों रुपए की मदद

छोड़ना चाहती थी संगठन: लंबे समय से नक्सल गतिविधियों में शामिल पुष्पा उर्फ गौरी अब नक्सल गतिविधि को छोड़ना चाहती थी और शादी करके घर बसाना चाहती थी। लेकिन इससे पहले ही वह पुलिस की गिरफ्त में आ गई।

दोनों हाथों से हथियार चलाने में माहिर: औरंगाबाद में पुष्पा उर्फ गौरी काफी कुख्यात रही है। वह दोनों हाथों से हथियार चलाने में माहिर है। इंसास और एके-47 जैसे राइफल आसानी से चलाती है। इसी खूबी की वजह से संगठन में उसका कद बढ़ गया था।

बहरहाल, यह खूंखार महिला नक्सली पुलिस की गिरफ्त में है। उससे पूछताछ की जा रही है। पुलिस को इस महिला नक्सली (Woman Naxali) से संगठन के संबंध में कई महत्वपूर्ण जानकारियां मिलने की उम्मीद है।