नियंत्रण रेखा पर भारतीय सेना की कर्रवाई से बढ़ी पाकिस्तान की टेंशन, इमरान खान ने ISI चीफ के साथ राष्‍ट्रपति से की मुलाकात

भारतीय सेना (Indian Army) की जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान (Pakistan) को घबराहट हो रही है। यही वजह है कि प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने आईएसआई (ISI) चीफ के साथ राष्ट्रपति से मुलाकात की।

Pakistan

पीएम इमरान खान ने ISI के चीफ लेफ्टिनेंट जनरल फैज हामिद के साथ राष्‍ट्रपति आरिफ अल्‍वी से मुलाकात की। (फोटो- डॉन)

नियंत्रण रेखा (LoC) पर भारतीय सेना (Indian Army) की कार्रवाई ने पाकिस्‍तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) को टेंशन में डाल दिया है। भारतीय सेना (Indian Army) की ओर से लगातार की जा रही जवाबी कार्रवाई के बाद पीएम इमरान खान ने 21 अप्रैल को खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) के चीफ लेफ्टिनेंट जनरल फैज हामिद के साथ राष्‍ट्रपति आरिफ अल्‍वी (Arif Alvi) से मुलाकात की।

बताया जा रहा है कि तीनों के बीच बातचीत में भारतीय सेना (Indian Army) की ओर से का जा रही जवाबी कार्रवाई का मुद्दा उठाया गया। पाकिस्तान (Pakistan) के डॉन न्‍यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, तीनों के बीच मुलाकात के बाद जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है, ‘पीएम इमरान खान (Imran Khan) और राष्‍ट्रपति अल्‍वी ने घरेलू के साथ-साथ विदेशी मामलों में विचारों का आदान-प्रदान किया।’

कोरोना वॉरियर्स: लोगों की मदद के लिए हर पल तत्पर CISF के जवान

डॉन ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि इस बातचीत में भारतीय सेना की आक्रामक कार्रवाई का मुद्दा प्रमुखता के साथ उठा। आईएसआई (ISI) चीफ ने भी भारतीय सेना की कार्रवाई से पाकिस्‍तानी राष्‍ट्रपति को अवगत कराया। दरअसल, सीमा पर पिछले दिनों भारतीय सेना के जवानों ने पाकिस्‍तानी आतंकवादियों के घुसपैठ के एक प्रयास को विफल कर दिया था।

इसके बाद भारतीय सेना ने एलओसी (LoC) पर स्थित आतंकवादियों के लॉन्‍च पैड को भी नष्‍ट कर दिया था। इसके बाद दोनों ओर से लगातार गोलाबारी हो रही है। बता दें कि पिछले दिनों सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे (General MM Naravane) ने कश्मीर में नियंत्रण रेखा (LoC) के आसपास पर सुरक्षा हालातों का जायजा लिया था।

Corona Virus: भारत में मरीजों की संख्या पहुंची 20 हजार के करीब, पिछले 24 घंटे में सामने आए 1000 से अधिक मामले

रक्षा प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया के मुताबिक दो दिवसीय कश्मीर दौरे के दूसरे दिन नरवणे ने घुसपैठ रोकने के लिए उठाए जा रहे कदमों सहित नियंत्रण रेखा के आसपास के सुरक्षा हालात की समीक्षा की। उन्होंने बताया कि सेना प्रमुख ने उत्तरी सैन्य कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी और चिनार कॉर्प के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल बीएस राजू के साथ विभिन्न सैन्य ठिकानों और इकाइयों का दौरा किया।

अब, भारतीय सेना (Indian Army) की जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान (Pakistan) को घबराहट हो रही है। यही वजह है कि प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने आईएसआई (ISI) चीफ के साथ राष्ट्रपति से यह मुलाकात की।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App