LoC पर पाकिस्तान ने की फायरिंग, जवाबी कार्रवाई में भातीय जवानों ने उसके 5 सैनिक मार गिराए

जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में LoC पर पाकिस्तान ने 10 दिसंबर और 11 दिसंबर की दरमियानी रात भारी हथियारों से फायरिंग की। जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना (Indian Army) ने उसके पांच सैनिक मार गिराए।

LoC

फाइल फोटो।

एलओसी (LoC) के कुछ हिस्सों में पाकिस्तानी सेना लगातार उकसावे की कार्रवाई कर रही है। 10 दिसंबर की रात फायरिंग का केंद्र जम्मू-कश्मीर का पुंछ सेक्टर था।

जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में LoC पर पाकिस्तान ने 10 दिसंबर और 11 दिसंबर की दरमियानी रात भारी हथियारों से फायरिंग की। जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना (Indian Army) ने उसके पांच सैनिक मार गिराए। बता दें कि पाकिस्तान की तरफ से नियंत्रण रेखा (LoC) पर जबरदस्त फायरिंग की जा रही है।

10 दिसंबर की दोपहर को शुरू हुआ सिलसिला 11 दिसंबर की सुबह तक जारी रहा। भारतीय सेना (Indian Army) ने पाकिस्तान की इस हरकत का करारा जवाब दिया। जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के पांच सैनिक मारे गए। उसके तीन सैनिक घायल भी हुए हैं। एक न्यूज एजेंसी ने भारतीय सेना के सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी है।

Pulwama Attack: पाकिस्तान से 7 आतंकियों की जानकारी मांगेगा भारत, NIA ने तैयार किया लेटर

सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान की तरफ से 10 दिसंबर की दोपहर के बाद शुरू हुई फायरिंग 11 दिसंबर तड़के तक जारी थी। इस दौरान भारी हथियारों और मोर्टार का भी इस्तेमाल किया गया। भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई की। इसमें पाकिस्तान के 5 सैनिक मारे गए। एलओसी (LoC) के कुछ हिस्सों में पाकिस्तानी सेना लगातार उकसावे की कार्रवाई कर रही है। 10 दिसंबर की रात फायरिंग का केंद्र जम्मू-कश्मीर का पुंछ सेक्टर था।

ये भी देखें-

भारतीय सेना (Indian Army) के एक अफसर के अनुसार, पाकिस्तान ने अचानक फायरिंग की। वो हमारे सिविलियन इलाकों को टारगेट करना चाहता है। मानकोट सेक्टर में सबसे ज्यादा फायरिंग हुई। कुछ सिविलियन प्रॉपर्टी को भी नुकसान पहुंचा है। इस तरह की हरकतों का जवाब देना जरूरी था। हमने पाकिस्तान के पांच सैनिक मार गिराए जबकि तीन घायल हैं। उन्होंने कई नए बंकर बनाए थे। इन्हें तबाह कर दिया गया है। भारी फायरिंग 10 दिसंबर और 11 दिसंबर की दरमियानी रात करीब 2 घंटे तक चली।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें