Loc

पाक नागरिक बॉर्डर के बाड को पार करने के की कोशिश कर रहा था। उसे रुक जाने की चेतावनी दी गई लेकिन उसने ध्यान नहीं दिया। उसके बाद, उस पर गोली चलाई गई जिसके कारण वह थोड़ा घायल हो गया

शाहिद नावेद की गिरफ्तारी से पहले उसके एक अन्य सहयोगी शेर अली को भी तब गिरफ्तार किया गया था, जब वह कुवैत सरकार द्वारा डीपोर्ट किए जाने के बाद भारत पहुंचा था।

लेह में बढ़ते भारतीय सैन्य ताकत को देखते हुए चीन के इशारे पर लेह के दूसरी ओर गिलगित–बाल्टिस्तान में स्कर्दू तक पहुंचने के लिए चीन की तकनीक की मदद से पाकिस्तान पुरानी सड़कों की जल्द से जल्द मरम्मत करने में जुटा है।

इस सीजन में घुसपैठ के लिए लॉन्च पैड और उसके आसपास के इलाकों में आतंकी‚ उनके गाइड और पोर्टर्स की हरकतें तेज हो गई हैं। ये लोग घुसपैठ के लिए लगातार रेकी करते नजर आ रहे हैं।

जनरल बाजवा के मुताबिक, पूर्व और पश्चिम एशिया के बीच संपर्क सुनिश्चित करके ‘‘मध्य और दक्षिण एशिया की क्षमता को खोलने के लिए’’ भारत और पाकिस्तान के बीच शांति का माहौल होना बहुत आवश्यक है।

आतंकियों (Terrorists) के खिलाफ कार्रवाई के दौरान गोली लगने से सेना (Indian Army) के जवान त्रिवेश प्रकाश तिवारी शहीद हो गए। शहीद त्रिवेश प्रकाश तिवारी (Martyr Trivesh Prakash Tiwari) महज 24 साल के थे।

भारत और पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा (LoC) पर और अन्य क्षेत्रों में संघर्ष विराम (Ceasefire) पर सभी समझौतों का सख्ती से पालन करने पर सहमति जताई है। इस सिलसिले में दोनों ने संयुक्त बयान भी जारी किया।

Indian Army: ऐसी कई सरहदें हैं जहां इस तरह की चुनौतियों से जवानों को दिन रात जूझना पड़ता है। ये ऐसी जगह होती हैं जहां जन-जीवन का नामोनिशान नहीं होता।

सरहद पर दुश्मन सुरंग के जरिए हमारे देश में दाखिल होकर बड़ा हमला करने की फिराक में रहते हैं। ऐसे कई मामले सामने आते रहते हैं जिनमें सुरंग के जरिए भारतीय सरजमीं पर आने में दुश्मनों ने कामयाबी हासिल की हो।

जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में पाकिस्तान की ओर से हुई फायरिंग में भारतीय सेना (Indian Army) का एक जवान शहीद हो गया है। वह महज 21 साल के थे।

सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने 23 जनवरी को जम्मू के हीरानगर सेक्टर के पानसर इलाके में आतंकियों की एक बड़ी साजिश नाकाम कर दी। BSF ने इलाके में एक और सुरंग का पता लगाया है।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुंछ में पुलिस (Police) और एसओजी (SOG) के जवानों ने पाकिस्तान से लगती नियंत्रण रेखा (LoC) पर बेतार नदी पार कर इस पार पहुंचे एक नाबालिग लड़के को पकड़ा है।

पाकिस्तान (Pakistan) ने एलओसी (LoC) पर एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन (Ceasefire Violation) किया है। जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुंछ जिले के मनकोट सेक्टर में पाकिस्तान ने फायरिंग शुरू कर दी।

एलओसी (LoC) पर तैनाती से पहले जवानों को खास तरह की ट्रेनिंग की जरूरत होती है, जिससे वह दुश्मन की हर चाल को नाकाम कर सकें। राजौरी सेक्टर के कोर बैटल स्कूल (Core Battle School) में एलओसी पर तैनाती से पहले सैनिकों को ट्रेनिंग दी जाती है।

जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में LoC पर पाकिस्तान ने 10 दिसंबर और 11 दिसंबर की दरमियानी रात भारी हथियारों से फायरिंग की। जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना (Indian Army) ने उसके पांच सैनिक मार गिराए।

दिवाली के मौके पर एक बार फिर पाकिस्तान ने अपना नापाक चेहरा दिखाया है। शुक्रवार को LoC के पास अलग-अलग इलाकों में पाकिस्तान ने सीजफायर तोड़ा है।

दो देशों को बीच सीमा का निर्धारण दो तरह से होता है जिनमें से एक है लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC)  और दूसरा इंटरनेशनल बॉर्डर (IB) है। एलओसी, पीओके और जम्मू-कश्मीर के बीच की रेखा है।

यह भी पढ़ें