उत्तराखंड आपदा: सेना को बॉर्डर से जोड़ने वाला पुल बहा, ITBP के 200 से ज्यादा जवान भेजे गए

Uttarakhand Disaster: मलारी को जोड़ने वाला पुल भी बह गया है। ये पुल सेना को बॉर्डर से जोड़ता है। ऐसे में ITBP के जवानों को वहां भेजा गया है।

Uttarakhand Disaster

सांकेतिक तस्वीर

Uttarakhand Disaster: मलारी को जोड़ने वाला पुल भी बह गया है। ये पुल सेना को बॉर्डर से जोड़ता है। ऐसे में ITBP की पर्वतारोही टीम के साथ ब्रिज बनाने में माहिर जवानों को भी भेजा गया है।

चमोली: उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर टूटने के बाद भीषण तबाही (Uttarakhand Disaster) मची है। 150 से ज्यादा लोग लापता हैं और खबर लिखे जाने तक 10 शव बरामद हो चुके हैं। ऐसे में चारों तरफ तनाव का माहौल है। यूपी के भी कई जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

खबर है कि मलारी को जोड़ने वाला पुल भी बह गया है। ये पुल सेना को बॉर्डर से जोड़ता है। ऐसे में ITBP की पर्वतारोही टीम के साथ ब्रिज बनाने में माहिर जवानों को भी भेजा गया है।

इससे पहले ITBP के 200 जवानों को जोशीमठ भेजा गया था, जिससे वे तेजी से राहत कार्य कर सकें। गृह मंत्रालय द्वारा हालात की मॉनीटरिंग की जा रही है।

जम्मू कश्मीर: सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-मुस्तफा का मोस्टवांटेड आतंकी गिरफ्तार

उत्तराखंड सरकार ने जनता से अपील की है कि वे अफवाहों पर ध्यान ना दें। सरकार हर जरूरी कदम उठा रही है। घटना के बाद सरकार ने हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। 1905, 1070 और 9557444486 टोल फ्री नंबर हैं, जिन पर संपर्क किया जा सकता है।

ग्लेशियर टूटने से काफी तबाही हुई है। ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट को भारी नुकसान हुआ है। भागीरथी नदी का पानी रोक दिया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App