पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में फिर बोला झूठ, भारत पर मढ़ा सीजफायर के उल्लंघन का तोहमत

विश्व के अलग-अलग मंचों पर भारत के खिलाफ पाकिस्तान (Pakistan) का झूठा प्रचार जारी है। उसकी ओर से भारत पर झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाने का सिलसिला जारी है।

Pakistan

विश्व के अलग-अलग मंचों पर भारत के खिलाफ पाकिस्तान (Pakistan) का झूठा प्रचार जारी है।

विश्व के अलग-अलग मंचों पर भारत के खिलाफ पाकिस्तान (Pakistan) का झूठा प्रचार जारी है। उसकी ओर से भारत पर झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाने का सिलसिला जारी है। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता आएशा फारूकी ने एक प्रेस ब्रीफिंग में बताया कि विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतेरेस और सुरक्षा परिषद अध्यक्ष केली क्राफ्ट को पत्र लिखकर विस्तार से बताया है कि नियंत्रण रेखा पर भारतीय सैनिकों की तैनाती और संघर्षविराम उल्लंघन की लगातार बढ़ती घटनाओं ने पाकिस्तान के लिए खतरा पैदा कर दिया है।

Pakistan

विश्व के अलग-अलग मंचों पर भारत के खिलाफ पाकिस्तान (Pakistan) का झूठा प्रचार जारी है। उसकी ओर से भारत पर झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाने का सिलसिला जारी है। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता आएशा फारूकी ने एक प्रेस ब्रीफिंग में बताया कि विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतेरेस और सुरक्षा परिषद अध्यक्ष केली क्राफ्ट को पत्र लिखकर विस्तार से बताया है कि नियंत्रण रेखा पर भारतीय सैनिकों की तैनाती और संघर्षविराम उल्लंघन की लगातार बढ़ती घटनाओं ने पाकिस्तान (Pakistan) के लिए खतरा पैदा कर दिया है।

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों में सबसे ज्यादा पाकिस्तान की तरफ सीजफायर का उल्लंघन हुआ है और इसमें कई आम नागरिकों की भी मौत हुई है। फारूकी ने कहा, “हमने अपनी चिंताओं और डर को अंतरार्ष्ट्रीय संस्थाओं के साथ-साथ अपने दोस्तों के साथ साझा किया है।” पाकिस्तान (Pakistan) हाल के दिनों में आरोप लगाता रहा है कि भारत में नागरिकता कानून व एनआरसी जैसे मुद्दों के खिलाफ चल रहे प्रदर्शनों से ध्यान हटाने के लिए भारत कोई फॉल्स फ्लैग ऑपरेशन कर सकता है। इस संबंध में फारूकी ने कहा, “पाकिस्तान के कूटनीतिक प्रयासों ने धार्मिक अल्पसंख्यकों की कीमत पर हिंदू राष्ट्रवाद को बढ़ावा देने के भारत सरकार के एजेंडे का पदार्फाश किया है।”

इसके साथ ही पाकिस्तान (Pakistan) के विदेश मंत्रालय ने अलग से जारी एक बयान में भारत के नए सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकंद नरवाने के ‘आतंक की जड़ पर पहले ही प्रहार करने’ के बयान को ‘गैर जिम्मेदार’ होने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह किसी भी आक्रामक कार्रवाई का भरपूर जवाब देने में सक्षम है। बता दें कि भारतीय सैन्य प्रमुख ने कार्यभार संभालने पर 31 दिसंबर को कहा था कि अगर पाकिस्तान (Pakistan) राज्य प्रायोजित आतंकवाद को बंद नहीं करेगा तो हम पहले से ही खतरे की जड़, आतंकवाद के स्रोत पर प्रहार करेंगे। यह हमारा अधिकार है।

पढ़ें: आग में चलकर और बिना सहारे पहाड़ पर चढ़कर बनते हैं ‘गरुड़ कमांडो’, पढ़िए ट्रेनिंग से जुड़ी हर बात

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें