महाराष्ट्र: पुलिस ने गढ़चिरौली में दो इनामी मोस्टवांटेड नक्सलियों को धर-दबोचा, विरोध प्रदर्शन रैली में कर रहे थे शिरकत

दोनों नक्सली पिछले दो सालों के दौरान कथित तौर पर तीन एनकाउंटर में शामिल रहे हैं। गिरफ्तार नक्सलियों पर प्रशासन ने पहले से ही दो-दो लाख का इनाम घोषित कर रखा है।

Naxali

सांकेतिक तस्वीर।

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले की इटापल्ली तालुका में पुलिस ने खदान परियोजना के खिलाफ आयोजित एक विरोध प्रदर्शन में शामिल दो नक्सलियों (Naxalites) को गिरफ्तार किया है।

बिहार: गया में पुलिस को मिली कामयाबी, 5 साल से फरार नक्सली गिरफ्तार

पुलिस अधिकारी के अनुसार, पुलिस को सूचना मिली की ग्रामीणों ने इटापल्ली तालुका स्थित सूरजगढ़ खदान परियोजना के खिलाफ 26 अक्टूबर के विरोध में रैली का आयोजन किया है और इस रैली में कुछ नक्सली भी शामिल हैं।

इस सूचना के आलोक में फौरन पुलिस ने रैली में अपने स्पेशल ऑपरेशन स्क्वॉड के कुछ जवानों को सादे कपड़े में तैनात कर दिया। थोड़ी ही देर में पुलिस ने रैली में शामिल दोनों नक्सलियों (Naxalites) को गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार नक्सलियों (Naxalites) में से पहला नक्सली कार्रवाई दल सदस्य मुदा मासा जोही है और दूसरा जन मिलिशिया सदस्य मैनू डोरपेटी है। यहां बताते चलें कि नक्सली जोही गोरगुट्टा गांव की निवासी है, जो कि अति संवेदनशील एओपी गट्टा जॉम्बिया के इलाके में स्थित है।

वहीं दूसरी नक्सली डोरेटेटी इटापल्ली के बाडमेटा की निवासी है और 18 सितंबर को एक शख्स की हत्या में शामिल थी। वह 11 मई को एओबी गट्टा पर हमले में भी शामिल थी।

पुलिस जांच में पता चला है कि दोनों नक्सली पिछले दो सालों के दौरान कथित तौर पर तीन एनकाउंटर में शामिल रहे हैं। गिरफ्तार नक्सलियों पर प्रशासन ने पहले से ही दो-दो लाख का इनाम घोषित कर रखा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें