जनरल नरवने: 250 आतंकी घुसपैठ की फिराक में, सीमा पर सक्रिय हैं कई आतंकी लॉन्च पैड

नए सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने (General Manoj Mukund Naravane) ने 3 दिसंबर को कहा कि लगभग 250 पाकिस्तानी आतंकवादी नियंत्रण रेखा (LoC) के पार तैनात हैं और हर दिन भारतीय सीमा में घुसपैठ का प्रयास कर रहे हैं।

General Manoj Mukund Naravane

सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने (General Manoj Mukund Naravane) ने कहा है कि लगभग 250 पाकिस्तानी आतंकवादी भारतीय सीमा में घुसपैठ का प्रयास कर रहे हैं।

सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने (General Manoj Mukund Naravane) ने 3 दिसंबर को कहा कि लगभग 250 पाकिस्तानी आतंकवादी नियंत्रण रेखा (LoC) के पार तैनात हैं और हर दिन भारतीय सीमा में घुसपैठ का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नियंत्रण रेखा के पार लगभग 20 से 25 सक्रिय आतंकी लॉन्च पैड हैं और भारत स्थिति की निगरानी कर रहा है।

General Manoj Mukund Naravane
सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने (फाइल फोटो)।

नए सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने (General Manoj Mukund Naravane) ने 3 दिसंबर को कहा कि लगभग 250 पाकिस्तानी आतंकवादी नियंत्रण रेखा (LoC) के पार तैनात हैं और हर दिन भारतीय सीमा में घुसपैठ का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नियंत्रण रेखा के पार लगभग 20 से 25 सक्रिय आतंकी लॉन्च पैड हैं और भारत स्थिति की निगरानी कर रहा है। जनरल नरवने (General Manoj Mukund Naravane) ने कहा कि पाकिस्तान ने बालाकोट में फिर से आतंकी कैंप सक्रिय कर दिए हैं। 26 फरवरी, 2019 को बालाकोट एयर स्ट्राइक के बारे में नरवणे ने कहा, “हमने निश्चित रूप से बहुत कुछ हासिल किया है। आतंकी शिविरों का विनाश हुआ था।”

उन्होंने कहा कि वहां फिर से आतंकी शिविर सक्रिय हो गए हैं। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि आतंकी शिविरों व लॉन्च पैड के स्थान बदलते रहते हैं। जनरल नरवने (General Manoj Mukund Naravane) ने कहा, “ऐसी धारणा है कि आतंकी कैंप मदरसे या कुछ विशाल बुनियादी ढांचे के माध्यम से चलाए जाते हैं। छोटी झोपड़ियों से भी आतंकी शिविर संचालित किए जा रहे हैं। ये शिविर गांवों में घरों से भी चलाए जाते हैं।”

उन्होंने कहा कि खुफिया अनुमान के अनुसार नियंत्रण रेखा के पार लगभग 200 से 250 आतंकवादी इंतजार कर रहे हैं और घुसपैठ के लिए हर दिन प्रयास कर रहे हैं। सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने (General Manoj Mukund Naravane) ने कहा कि घाटी में भारी बर्फबारी के कारण पाकिस्तानी आतंकवादियों के लिए घुसपैठ करना मुश्किल हो गया है। जब विदेशी (अफगान) आतंकवादियों द्वारा नियंत्रण रेखा पार करने के प्रयास के बारे में सवाल किया गया, तो सेनाध्यक्ष ने कहा कि इस तरह का प्रयास करने वाले कई आतंकी मारे गए हैं।

पढ़ें: संगीत के साइंटिस्ट आर डी बर्मन के पंचम नाम के पीछे की कहानी

यह भी पढ़ें