Army Chief

भारतीय सेना के अतिरिक्त लोक सूचना महानिदेशालय (एडीजी पीआई) ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। उनके मुताबिक‚ जनरल एम एम नरवणे (MM Naravane) ने 10 इन्फैन्ट्री डिवीजन का दौरा किया और बांग्लादेश की सेना के अधिकारियों से बातचीत की।

भारतीय सेना प्रमुख (Indian Army Chief) जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (General MM Naravane) 8 अप्रैल को 5 दिवसीय दौरे पर बांग्लादेश (Bangladesh) पहुंचे।

जनरल नरवणे डीएसएससी कॉलेज के दो दिवसीय दौरे पर हैं। जहां उन्होंने कॉलेज में 76वें स्टॉफ पाठ्यक्रम में शामिल अधिकारियों और संकाय सदस्यों को व्याख्यान दिया।

कोडंडेरा मडप्पा करिअप्पा इंडियन आर्मी (Indian Army) के पहले भारतीय अध्यक्ष  थे। वे केएम करिअप्पा (K M Cariappa) के नाम से विख्यात थे। आजादी के बाद भारतीय सेना का भारतीयकरण करने का श्रेय करिअप्पा को ही दिया जाता है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने LAC के मसले पर जानकारी देते हुए 11 फरवरी को संसद में कहा कि बातचीत के दौरान भारत ने चीन के साथ सीमा विवाद को सुलझाने के लिए तीन सिद्धांतों को सुझाया है।

घरेलू रक्षा उत्पादन को बढ़ावा देने की दिशा में निजी उद्योगों को सरकार की सुधार पहल का फायदा उठाने के लिए प्रोत्साहित करते हुए सेना प्रमुख ने कहा कि सेना भी इसका पूरा समर्थन कर रही है।

आर्मी चीफ (Army Chief) जनरल एम एम नरवणे (General M M Naravane) ने पाकिस्‍तान (Pakistan) और चीन (China) को एक साथ खतरा बताते हुए कहा कि यह ऐसी हकीकत है जिसे अनदेखा नहीं किया जा सकता।

भारत और चीन के बीच तनाव जारी है। इस बीच बुधवार को सेना प्रमुख एम.एम.नरवणे लेह पहुंचे। यहां उन्होंने सेना अधिकारियों से मुलाकात की।

सेना प्रमुख (MM Naravane) ने रेचिन ला इलाके में जवानों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने स्थानीय तैयारियों की तारीफ की।

पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने बुधवार को पंजाब प्रांत का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने फील्ड फायरिंग रेंज का मुआयना किया।

भारत और चीन के बीच जारी गतिरोध के दौरान लद्दाख के दो दिवसीय दौरे पर गए सेना प्रमुख (Army Chief) जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (MM Naravane) ने कहा है कि वास्तविक नियंत्रण रेखा यानी LAC पर स्थिति गंभीर और नाजुक है।

भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव जारी है। लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर चीन की हर चाल का भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है। इस बीच थल सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे (MM Naravane) 3 सितंबर सुबह लद्दाख पहुंचे।

मध्य प्रदेश के में इंदौर के महू में स्थित आर्मी वॉर कॉलेज में दो दिन का वेबिनार आयोजित हुआ, जिसकी अध्यक्षता आर्मी चीफ जनरल एम एम नरवणे (M M Naravane) ने की।

सेना प्रमुख (Army Chief) जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (General Manoj Mukund Naravane) ने 6 अगस्त को असम के तेजपुर स्थित चौथी कोर मुख्यालय का दौरा किया।

थल सेना के प्रमुख (Army Chief) जनरल एमएम नरवणे (General MM Naravane) ने 13 जुलाई को जम्मू-पठानकोट रीजन का दौरा किया। सेना प्रमुख जम्मू में पाकिस्तान सीमा पर तैनात सैनिकों के ऑपरेशनल तैयारियों का जायजा लिया।

उन्होंने (Army Chief) कहा‚ मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि हमारी उत्तरी सीमाओं पर बुनियादी क्षमताओं का विकास पटरी पर है। कोविड़–19 (Coronavirus) महामारी के कारण हमारे बलों की स्थिति में कोई बदलाव नहीं होगा। 

पाकिस्तान है कि इन हालातों में भी अपनी कायराना हरकतों को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहा है। भारतीय सेना प्रमुख (Army Chief) जनरल मनोज मुकुंद नरवाणे (General Manoj Mukund Naravane) ने यह बात कही है।

यह भी पढ़ें