Kargil War: पाकिस्तान के खिलाफ पंजाब के 105 सैनिकों ने दी थी शहादत, इन जवानों का कर्जदार है देश

भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 में लड़े गए कारगिल युद्ध (Kargil War)  में पंजाब के 105 जवानों ने शहादत दी थी। भारत मां की रक्षा के लिए ये सैनिक दुश्मनों को नेस्तनाबूद करने के लिए किसी भी हद से गुजर गए थे।

Kargil War

फाइल फोटो।

Kargil War: ‘ऑपरेशन विजय’ में पंजाब के 105 सैनिकों ने शहादत दिया था। ‘ऑपरेशन विजय’ के नाम से 17 दिन कारगिल के युद्ध में लड़ कर जीत का परचम लहराया था।

भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 में लड़े गए कारगिल युद्ध (Kargil War)  में पंजाब के 105 जवानों ने शहादत दी थी। भारत मां की रक्षा के लिए ये सैनिक दुश्मनों को नेस्तनाबूद करने के लिए किसी भी हद से गुजर गए थे। जंग के मैदान में दुश्मनों को नेस्तनाबूद करने वाले ये जवान आज भी लोगों के दिलों में बसते हैं।

इन जवानों की शहादत भी व्यर्थ नहीं गई थी और युद्ध में हमें जीत हासिल हुई थी। देश की रक्षा करने में पंजाब के सपूतों का बड़ा योगदान रहा है। ‘ऑपरेशन विजय’ में पंजाब के 105 सैनिकों ने शहादत दिया था। ‘ऑपरेशन विजय’ के नाम से 17 दिन कारगिल के युद्ध (Kargil War) में लड़ कर जीत का परचम लहराया था।

Kargil War: ऊंची पहाड़ियों पर कब्जा कर भारत को हराना चाहता था पाकिस्तान, प्लान हुआ बुरी तरह फेल

कारगिल में शहीद हुए नायब सूबेदार निर्मल सिंह को मरणोपरांत ‘वीर चक्र’ से सम्मानित किया गया था। सूबेदार निर्मल सिंह ने जंग के मैदान में अभूतपूर्व प्रदर्शन किया था। इसके साथ ही इस युद्ध में चार सैनिकों को बहादुरी के लिए सेना मेडल दिए गए थे।

कारगिल युद्ध (Kargil War) में शहीद हुए लुधियाना के गांव गिल निवासी 9 सिख रेजिमेंट के नायक परमजीत ने भी अहम रोल अदा किया था। गांव भसौड़ के सिपाही जसवंत सिंह 6 जुलाई, 1999 को कश्मीर सरहद की बिंदू पोस्ट पर शहीद हो गए थे।

ये भी देखें-

गढ़शंकर के बीत इलाके के गांव बीनेवाल के जवान बलदेव राज सहगल ने भी इस युद्ध में देश के लिए कुर्बानी दी थी। वह 7 डोगरा रेजिमेंट में पदस्थ थे। उन्होंने 17 जुलाई, 1999 को शहादत दिया था। इस युद्ध में देश को 527 वीर सैनिकों को खोना पड़ा था। कारगिल युद्ध (Kargil War) के कारण देश के लोग पूरी तरह एकजुट हो गए थे और मुश्किल घड़ी में देश के साथ खड़े हो सभी हमारे वीरों का हौसला बढ़ा रहे थे। 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें