Kargil War: हार के बाद पाकिस्तान में बढ़ गई थी राजनैतिक और आर्थिक अस्थिरता, भारत को मिला था फायदा

भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 में कारगिल युद्ध (Kargil War) लड़ा गया था। इस युद्ध में पाकिस्तान को बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा था। कारगिल युद्ध में जीत के बाद भारतीय सेना (Indian Army) को मजबूती मिली थी।

Kargil war

फाइल फोटो।

Kargil War: पाकिस्तान में इस युद्ध के कारण राजनैतिक और आर्थिक अस्थिरता बढ़ गई और नवाज शरीफ की सरकार को हटाकर परवेज मुशर्रफ ने कमान संभाल ली थी। 

भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 में कारगिल युद्ध (Kargil War) लड़ा गया था। इस युद्ध में पाकिस्तान को बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा था। कारगिल युद्ध में जीत के बाद भारतीय सेना (Indian Army) को मजबूती मिली थी। वहीं, पाकिस्तान को राजनैतिक और आर्थिक अस्थिरता मिली थी।

युद्ध के दौरान भारत में देशप्रेम का उबाल देखने को मिला और भारत की अर्थव्यवस्था को काफी मजबूती मिली। भारतीय सरकार ने रक्षा बजट और बढ़ाया। वहीं, पाकिस्तान को हार के बाद भारी नुकसान झेलना पड़ा था। पाकिस्तान की इंटरनेशनल बेइज्जती हुई थी। हार के बाद पाकिस्तान में राजनैतिक और आर्थिक अस्थिरता बढ़ गई थी।

India Pakistan War 1971: महज 13-14 दिनों तक चला युद्ध, पाक सेना को मिला था आतंकी संगठनों का साथ

पाकिस्तान में इस युद्ध (Kargil War) के कारण राजनैतिक और आर्थिक अस्थिरता बढ़ गई और नवाज शरीफ की सरकार को हटाकर परवेज मुशर्रफ ने कमान संभाल ली थी। युद्ध से पहले और युद्ध के दौरान पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और सेना प्रमुख जहांगीर करामात के बीच भी मतभेद थे।

ये भी देखें-

बता दें कि इस युद्ध के जरिए शुरुआत में पाकिस्तान की योजना भारत प्रशासित कश्मीर में पहाड़ की कुछ चोटियों पर कब्जा करने और फिर श्रीनगर-लेह राजमार्ग को बंद करने की थी। पाकिस्तान अपने इस सपने को पूरा नहीं कर सका। इसकी वजह थी हमारी सेना का सही समय पर सही निर्णय लेना और दुश्मनों पर बेखौफ टूट पड़ना।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें