Ranchi

जिस जगह ये पोस्टर चिपकाए गए हैं, वो जगह राजभवन की दीवार के बिल्कुल पास है। उग्रवादी बेखौफ इस इलाके में घुसे और अस्पताल के चारों तरफ पोस्टर चिपकाए।

Jharkhand: इस गांव की खासियत ये है कि यहां की महिलाओं ने जागरुकता फैलाकर इसे नशा मुक्त बनाया है। यहां के लोग खूब मेहनत करते हैं और खुशहाल जिंदगी बिताते हैं।

गिरफ्तार किए गए दोनों उग्रवादी पीएलएफआई (PLFI) के लिए काम करते हैं और उनका काम अमीर लोगों को ढूंढना और उनसे लेवी वसूलना था।

Madhubani Art: अविनाश ने 2014 में पहली बार इस बारे में सोचा था। एक वर्कशॉप के दौरान उन्हें पता चला कि गांव के लोगों ने कभी पेन या पेंसिल भी नहीं छुआ है।

थोड़ी ही देर में कई किलोमीटर तक हाईवे पर गाड़ियों की लंबी कतार लग गई।  सूचना पाकर अधिकारी आए और किसी तरह समझा-बूझकर मामला शांत किया।

नामकुम थाना क्षेत्र के लाली पंचायत के हेसो जंगल से रांची पुलिस (Ranchi Police) द्वारा चलाए जा रहे सर्च ऑपरेशन के दौरान नक्सलियों द्वारा छिपाकर रखे गए विस्फोटक और हथियारों का जखीरा बरामद किया गया है।

झारखंड के रांची में दशम फॉल के पास 4 अक्टूबर को हुई नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में राहे प्रखंड के चैनपुर गांव के जगुआर एसटीएफ के जवान खंजन कुमार महतो शहीद हो गए।

यह भी पढ़ें