छत्तीसगढ़: सप्लाई कर रहे थे राशन और विस्फोटक, सुकमा से नक्सलियों के 5 सहयोगी गिरफ्तार

सुरक्षाबलों को नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ कामयाबी हासिल हुई है। जवानों ने नक्सलियों को रसद पहुंचाते हुए पांच ग्रामीणों को गिरफ्तार किया है। इस दौरान रसद के साथ विस्फोटक (Explosive) भी बरामद हुआ है।

Naxals

सांकेतिक तस्वीर।

ट्रैक्टर पर सवार पांच लोगों को चिंतलनार थाना ले जाकर पूछताछ की गई। सभी ने खुद को नक्सलियों (Naxals) का सहयोगी बताया।

सुरक्षाबलों को नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ कामयाबी हासिल हुई है। जवानों ने नक्सलियों को रसद पहुंचाते हुए पांच ग्रामीणों को गिरफ्तार किया है। इस दौरान रसद के साथ विस्फोटक (Explosive) भी बरामद हुआ है। जानकारी के मुताबिक, सुरक्षाबलों ने रसद से लदा हुआ ट्रैक्टर और उसमें रखी विस्फोटक सामग्री बरामद की है।

पकड़े गए ट्रैक्टर से चावल, आटा, नारियल, अगरबत्ती, स्कूली किताब, बिस्किट, नमकीन, चना, साबुन, तेल, शक्कर, तंबाकू, चूना, प्याज, आलू, चप्पल के साथ ही इलेक्ट्रिक वायर, कोर्डेक्स वायर, 12 नग जिलेटिन रॉड, 10 नग इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, 40 नग पेंसिल बैटरी और टार्च बैटरी बरामद की गई। यह घटना छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा की है।

Jammu-Kashmir: पुलवामा में मुठभेड़ शुरू, जवानों ने आतंकियों को घेरा

जानकारी के अनुसार, 13 सितंबर को सुरक्षाबल के जवान मरकागुड़ा और कोत्तागुड़ा के पास स्थित जंगलों की ओर गश्त कर रहे थे। इस दौरान एक ट्रैक्टर राशन और अन्य सामान से भरा हुआ कुमोड़तोंग की ओर जा रहा था। सुरक्षाबलों द्वारा ट्रैक्टर रुकवाने पर उस पर सवार दो लोग ट्रैक्टर से कूदकर भागने लगे, जिन्हें जवानों ने घेराबंदी कर पकड़ा लिया गया।

ट्रैक्टर पर सवार पांच लोगों को चिंतलनार थाना ले जाकर पूछताछ की गई। सभी ने खुद को नक्सलियों (Naxals) का सहयोगी बताया। पकड़े गए ट्रैक्टर चालक ने अपना नाम मुचाकी देवा बताया। वह बीजापुर जिले के पामेड़ थाना के कुमोड़तोंग गांव का रहने वाला है। मुचाकी देवा कई नक्सल घटनाओं में शामिल रहा है।

यूपी के पूर्व CM कल्याण सिंह को हुआ कोरोना, PGI लखनऊ में भर्ती

वहीं, दूसरे गिरफ्तार शख्स ने अपना नाम हेमला कोसा बताया। वह सुकमा जिले के चिंतलनार थाना क्षेत्र के फुलनपाड़ का रहने वाला है। हेमला कोसा मिलिशिया सदस्य है। उसने बताया कि वह पूर्व में डीवीसी पापा राव का सुरक्षा गार्ड रह चुका है। इसके अलावा, निवासी दंडकारण्य आदिवासी किसान मजदूर संघ (डीएकेएमएस) के सदस्य मुचाकी आयता को भी गिरफ्तार किया गया। वह कुमोड़तोंग का रहने वाला है।

इनके साथ गिरफ्तार सुकमा जिले के चिंतलनार थाना क्षेत्र के केरलापेंदा लखापान के रहने वाले मिलिशिया सदस्य मड़कम भीमा और सुकमा जिले के चिंतलनार के ही राजकुमार संजे ने भी खुद को नक्सलियों (Naxals) का सहयोगी बताया। उन्होंने बताया कि नक्सली कमांडर लोकेश और जगदीश के कहने पर वे उन तक सामान लेकर जा रहे थे।

ये भी देखें-

नक्सलियों  (Naxalites) के मुख्य सप्लायर मुचाकी देवा ने बताया कि वह नक्सली कमांडर के कहने पर गांव में किराना दुकान चला रहा था। अपनी दुकान की आड़ में वह नक्सलियों तक सामान पहुंचाता था। संदेश, लोकेश और नक्सली दस्ते के अन्य सदस्य दुकान आकर भी सामान ले जाते हैं। इस दौरान वे पुलिस की गतिविधियों की जानकारी भी लेते हैं। पुलिस को देवा से अन्य नक्सली मददगारों के बारे में भी जानकारी मिली है। चिंतलनार थाने में पांचों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें