झारखंड: कुख्यात नक्सलियों के गांव पहुंचकर पुलिस कर रही लोगों की मदद, जीत रही ग्रामीणों का दिल

झारखंड (Jharkhand) के गिरिडीह जिले के पारसनाथ पहाड़ की तलहटी में बसे गांव और कस्बे घने जंगलों और पठारों से घिरे हैं। इन इलाकों में नक्सलियों का बोल-बाला रहता है। पर पारसनाथ पहाड़ के नीचे बसे प्राकृतिक सौंदर्य से भरे चकरबराई, टेसाफूली और मोहनपुर जैसे गांवों में अब फिजा बदल रही है।

Published by सिर्फ़ सच टीम April 27, 2020
  • कुख्यात नक्सलियों के गांव में पहुंच कर पुलिस कर रही लोगों की मदद।

  • नामी नक्सलियों के गांव में अपनी पहुंच बनाकर पुलिस ने लोगों की जिस तरह मदद की है, शायद नक्सलियों (Naxals) ने कभी ऐसा सोचा भी नहीं होगा।

  • झारखंड (Jharkhand) के गिरिडीह जिले के पारसनाथ पहाड़ की तलहटी में बसे गांव और कस्बे जो घने जंगलों और पठारों से घिरे हैं। इन इलाकों में नक्सलियों का बोल-बाला रहता है। पर पारसनाथ पहाड़ के नीचे बसे प्राकृतिक सौंदर्य से भरा चकरबराई, टेसाफूली, मोहनपुर में अब फिजा ही बदल गई है।

  • पर अब वक्त बदलन गया है। अब यहां के लोग जिंदगी को खुल कर जीना शुरू कर चुके हैं। एसपी सुरेन्द्र कुमार झा के अनुसार, आने वाले 6 माह में इन नक्सल प्रभावित गांवों की दिशा और दशा दोनों बदलेंगे।

  • क्षेत्र में कुख्यात नक्सली अजय महतो के दस्ते के सदस्य का कुख्यात विवेक जी, प्रशांत मांझी, नंदलाल, रणवीर और कृष्णा जैसे हार्डकोर नक्सली पारसनाथ के इन इलाकों में सक्रिय हैं। इन नक्सलियों को अब समझ आ गया है कि भोले-भाले लोगों को बेवकूप बनान आसान नहीं है। पुलिस और प्रशासन इन लोगों के साथ हर वक्त खड़ा है।

यह भी पढ़ें