छत्तीसगढ़: बीजापुर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारा गया कुख्यात नक्सली शंकर

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए मुठभेड़ में एक नक्सली मारा गया। उसकी पहचान कुख्यात माओवादी शंकर उर्फ़ कमलू के रूप में हुई है। सरकार की ओर से उसके सिर पर पांच लाख का ईनाम था।

naxal encounter in bijapur, chhattisgarh, naxal killed, lok sabha elections 2019, sirf sach sirfsach.in

सांकेतिक तस्वीर

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुई मुठभेड़ में एक नक्सली कमांडर मारा गया। जिसकी पहचान कुख्यात माओवादी शंकर उर्फ़ कमलू के रूप में हुई है। सरकार की ओर से उसके सिर पर पांच लाख रूपए का इनाम था। प्रशासन को काफी समय से कमलू की तलाश थी। घटना दंतेवाड़ा के मिरतुर थाना क्षेत्र की है, जहां 23 अप्रैल को पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ खत्म होने के बाद हुई सर्चिंग में एक शव बरामद हुआ जो कुख्यात नक्सली शंकर का है। मारे गए नक्सली के पास से 9 MM की एक पिस्टल भी बरामद हुई है।

जानकारी के अनुसार, दंतेवाड़ा-बीजापुर सीमा इलाके में फुलगट्टा के जंगलों में पुलिस सर्च आपरेशन कर रही थी कि अचानक नक्सलियों से सामना हो गया। मुठभेड़ में दोनों तरफ से कई राउंड फायरिंग हुई। जिसमें भैरमगढ़ एरिया कमेटी मेंबर और नक्सल कमांडर शंकर उर्फ़ कमलू मारा गया।

यह भी पढ़ें: एक लाख की इनामी महिला नक्सली समेत 15 नक्सलियों ने डाले हथियार

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App