छत्तीसगढ़ः एक लाख की इनामी महिला नक्सली समेत 15 नक्सलियों ने डाले हथियार

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में 15 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। एसपी के सामने सरेंडर करने वाले सभी नक्सली संगठन में हो रही ज्यादतियों से परेशान थे। सरेंडर करने वाले नक्सलियों ने बताया कि संगठन में अब विचारधारा नाम की कोई चीज नहीं रह गई है।

Naxals surrender, naxals surrendered, chhattisgarh, bijapur, naxals, बीजापुर, नक्सली, छत्तीसगढ़, Sirf Sach, sirfsach.in, सिर्फ सच, सिर्फ़ सच, दो नक्सली मारे गए, नक्सल हमला, नक्सल सरेंडर, 15 नक्सलियों ने किया सरेंडर

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में 15 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। एसपी के सामने सरेंडर करने वाले सभी नक्सली संगठन में हो रही ज्यादतियों से परेशान थे। सरेंडर करने वाले नक्सलियों ने बताया कि संगठन में अब विचारधारा नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। बड़े नक्सली नेता अपने निजी लाभ के लिए भोले-भाले युवाओं का इस्तेमाल कर करोड़ों की संपत्ति बना चुके हैं।

सरेंडर करने वाले नक्सलियों में एक लाख की इनामी महिला नक्सली समेत कई महिलाएं भी शामिल हैं। सरेंडर करने के बाद पूर्व महिला नक्सलियों ने बताया कि संगठन में उनके साथ बहुत बुरा बर्ताव किया जाता था। खास बात ये है कि समानता की दुहाई देने वाले नक्सल संगठनों में महिलाओं की स्थिति दोयम दर्जे की है। उनके साथ शारीरिक और यौन शोषण आम बात है। इसकी सुनवाई भी नहीं होती।

यह भी पढ़ेंः नफरत, जिल्लत और रुसवाई, बदहाल ललिता की कुल यही है कमाई

सरेंडर करने वाले नक्सलियों को राज्य सरकार की रिहैबिलिटेशन योजना के तहत तमाम सुविधाएं दी जाएंगी। उधर, एक साथ इतनी संख्या में नक्सलियों के सरेंडर से प्रशासन बेहद खुश है। वहीं इस खुशी को बढ़ाने वाली दूसरी खबर भी बीजापुर से ही आई। जहां सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में दो नक्सली मारे गए। नक्सलियों के शव के साथ ही 12 बोर की एक बंदूक भी बरामद हुई है। ग्रेहाउंड और बीजापुर पुलिस ने यह संयुक्त कार्रवाई की। यह मुठभेड़ पामेड़ थाना क्षेत्र के जंगलों में हुई। पुलिस अधीक्षक गोवर्धन ठाकुर ने इस मुठभेड़ की पुष्टि की।

जानकारी के मुताबिक, ग्रेहाउंड और बीजापुर पुलिस सर्चिंग पर पामेड़ थाने से जंगल की ओर निकले थे। इसी दौरान जंगल में नक्सलियों ने अचानक उन पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में जवानों की ओर से भी फायरिंग की गई। कुछ देर चली इस मुठभेड़ के बाद नक्सली मौके से भाग निकले।

पुलिस ने घटना स्थल पर सर्च ऑपरेशन चलाया तो वहां मारे गए दो नक्सलियों के शव और हथियार बरामद हुए। फिलहाल मारे गए नक्सलियों की पहचान नहीं हो पाई है।

यह भी पढ़ेंः नक्सल प्रभावित अबूझमाड़ में आदिवासी लड़की ने खोला पहला मेडिकल स्टोर

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App