Bijapur

छत्तीसगढ़ के धुर नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले के जंगलों में सर्चिंग के दौरान जिला और कोबरा 204 की संयुक्त बटालिन ने दो नक्सलियों  (Naxalites) को गिरफ्तार किया।

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले के भैरमगढ़ पातरपारा में स्थित सीआरपीएफ (CRPF) 199वीं बटालियन के जवान इन दिनों नक्सल प्रभावित गांवों में जा कर गांव वालों को टेलीफिल्म के माध्यम से जागरूक करने का प्रयास कर रहे हैं।

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर (Bijapur) जिले में सुरक्षा बलों ने तीन नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। बीजापुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने 19 नवंबर को यह जानकारी दी।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर बीजापुर (Bijapur) में पुलिस अधिकारियों के सामने हथियार छोड़ मुख्यधारा में शामिल होने के लिए रानी बोदली और मुरकीनार कांड में शामिल 7 इनामी नक्सलियों ने सरेंडर कर दिया।

बीजापुर जिले के थाना उसूर से जिला बल एवं सीआरपीएफ की संयुक्त पार्टी 13 नवंबर को एरिया डॉमिनेशन, नक्सली आरोपियों एवं वारंटियों की तलाश में टेकमेटला की ओर रवाना हुई थी।

छत्तीसगढ़ के घोर नक्सल प्रभावति जिले बीजापुर (Bijapur) में एक बार फिर नक्सलियों की कायराना करतूत देखने को मिली। नक्सलियों ने बीजापुर जिले के एक गांव में जनअदालत लगाकर तीन ग्रामीणों को बेरहमी से पीटा।

बीजापुर पुलिस ने तीन नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। नक्सलियों के पास से सुरक्षाबल के जवानों ने हथियार भी बरामद किए हैं।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में सीआरपीएफ (CRPF)ने 18 सितंबर की रात को 1 लाख रुपये के इनामी नक्सली को गिरफ्तार किया।

बीजापुर जिले के पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, 6 मई की शाम को बीजापुर शहर से बेदरे के लिए जय भवानी ट्रैवल्स की यात्री बस रवाना हुई थी। बस जब कुटरू और फरसेगढ़ के बीच पहुंची थी तभी रास्ते में नक्सलियों ने उसे रोक लिया।

नक्सलियों ने इस घटना को बीजापुर कोतवाली क्षेत्र के पदेड़ा के पास अंजाम दिया। माना जा रहा है कि नक्सलियों ने पुलिस के द्वारा लगातार की जा रही नक्सल विरोधी कार्रवाई से बौखला कर इस वारदात को अंजाम दिया है।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए मुठभेड़ में एक नक्सली मारा गया। उसकी पहचान कुख्यात माओवादी शंकर उर्फ़ कमलू के रूप में हुई है। सरकार की ओर से उसके सिर पर पांच लाख का ईनाम था।

छत्तीसगढ़ के धमतरी पुलिस ने कुछ नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि ये नक्सली लोकसभा चुनाव के दौरान जिले में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। पकड़े गए नक्सलियों में पांच लाख रूपए का इनामी नक्सली अजीत मोडियाम और उसका साथी रामसू कुंजाम शामिल है।

यह भी पढ़ें