Jammu Kashmir: PoK में आतंकियों को दी जा रही रॉकेट लॉन्चर और ड्रोन अटैक की ट्रेनिंग, खुफिया एजेंसियों ने किया खुलासा

खुफिया एजेंसियों ने बताया है कि पाकिस्तानी सेना की मदद से गुलाम कश्मीर में आतंकियों को रॉकेट लॉन्चर और ड्रोन की मदद से हमला करने की ट्रेनिंग दी जा रही है।

Terrorists

सांकेतिक तस्वीर।

इस समय जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों की ओर से आतंकियों (terrorists) के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई की जा रही है, इस वजह से कश्मीर में आतंकी गतिविधियों में कमी आई है।

जम्मू कश्मीर: खुफिया एजेंसियों ने भारतीय सेना को एक बड़े खतरे के लिए आगाह किया है और ये खतरा आतंकियों (terrorists) से संबंधित है। दरअसल खुफिया एजेंसियों ने बताया है कि पाकिस्तानी सेना की मदद से गुलाम कश्मीर में आतंकियों को रॉकेट लॉन्चर और ड्रोन की मदद से हमला करने की ट्रेनिंग दी जा रही है और इसके लिए 25 से ज्यादा ट्रेनिंग कैंप चल रहे हैं।

बता दें कि इस समय जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों की ओर से आतंकियों (terrorists) के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई की जा रही है, इस वजह से कश्मीर में आतंकी गतिविधियों में कमी आई है। लेकिन पाकिस्तान को ये बात हजम नहीं हो रही है, इसलिए पाक सेना ने गुलाम कश्मीर में आतंकियों को ट्रेनिंग देना शुरू किया है। ऐसा इसलिए किया जा रहा है, जिससे कश्मीर में फिर से अशांति फैल सके।

जम्मू के बाद अब श्रीनगर में भी ड्रोन उड़ाना, रखना और खरीदना गैरकानूनी, प्रशासन ने जारी किया आदेश

सूत्रों का कहना है कि बीते एक महीने में कई आतंकी संगठनों, जैसे लश्कर-ए-तैयबा, अलबदर, जैश-ए-मोहम्मद, हिजबुल मुजाहिदीन के आकाओं ने गुलाम कश्मीर में मीटिंग की है और इसके बाद ही आतंकियों को ट्रेनिंग कैंप में ट्रेन्ड करने का काम शुरू हुआ।

जानकारी ये भी मिली है कि पढ़े लिखे युवाओं को इन कैंप्स में भर्ती पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है। यहां ऑटोमेटिक हथियार चलाने के अलावा साइबर अटैक की भी ट्रेनिंग दी जा रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें