भारत–पाक सीमा पर तनाव बरकरार, गणतंत्र दिवस पर नहीं हुआ मिठाइयों का आदान–प्रदान

Terrorism

गणतंत्र दिवस के मौके पर आतंकी हमलों को लेकर आशंकाएं पूरी तरह विफल साबित हुई‚ लेकिन भारत–पाकिस्तान सीमा (India-Pakistan Border) पर तनाव बरकरार है।

Pakistan
No exchange of sweets by BSF with Pakistan on Republic Day II Photo Credit:- Sudhi Ranjan Sen

सूत्रों का कहना है कि सरहद पार पाकिस्तान (Pakistan) की दिशा से भारत विरोधी साजिशों का ताना-बाना लगातार बुना जा रहा है। यही वजह है कि इस बार भी गणतंत्र दिवस के मौके पर दोनों ओर से मिठाइयों का आदान–प्रदान नहीं हुआ।

मालूम हो कि पाकिस्तान (Pakistan) की ओर से विशेषकर नियंत्रण रेखा पर अग्रिम भारतीय सुरक्षा चौकियों तथा आवासीय बस्तियों को लंबे अरसे से निशाना बनाया जा रहा है। पिछली 10 जनवरी को पाकिस्तान सेना की बार्ड़र ऐक्शन टीम ने जिला पुंछ की नियंत्रण रेखा के गुलपूर सेक्टर में हमला कर सेना के एक कर्मचारी मोहम्मद असलम का सिर काट ड़ाला। इसके अलावा तीन अन्य नागरिक भी जख्मी हुए थे। बताते चलें कि पाकिस्तान की बार्ड़र ऐक्शन टीम काफी लंबे समय से विषेशकर नियंत्रण रेखा पर घात लगाकर हमला करती आ रही है जिसका भारतीय सेना भी समय–समय पर मुंहतोड़ जवाब देती रही है।

नक्सलवाद-आतंकवाद से संघर्ष के दौरान शहीद जवानों के बच्चों को CBSE परीक्षा में ढ़ील

पाकिस्तान (Pakistan) की बार्ड़र ऐक्शन टीम (BAT) आतंकियों की घुसपैठ के लिए तमाम तरह के हमले करती है। नियंत्रण रेखा पर इस बार भी सेना के जवानों व अफसरों ने पूरे जोश व उत्साह के साथ गणतंत्र दिवस मनाया परंतु बेहद कड़ी चौकसी भी बरती गई जो अभी भी बनी हुई है।

सैन्य सूत्रों का कहना है कि पिछले कुछ एक दिनों में सरहद पार से भले ही गोलाबारी की घटनाएं नहीं घटी लेकिन उस ओर पाकिस्तानी सेना व आतंकियों की गतिविधियां देखी जा रही हैं इसलिए सरहद पर हाई अलर्ट की स्थिति है। इस बीच बीती रात भी नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान ने एक बार फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।

मोदी-शाह जोड़ी ने एक और विवाद को किया खत्म, बोड़ोलैंड के उग्रवादी करेंगे सरेंडर

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें