भारत और चीन के बीच 7 दौर की वार्ता के बाद भी नहीं निकला कोई नतीजा, अब 8वें दौर की तैयारी

India China dispute: भारत-चीन के बीच मई से ही सीमा विवाद चल रहा है। दोनों देशों के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन अब तक कोई निष्कर्ष नहीं निकला है।

India China Dispute

LAC पर जारी है तनाव

भारत और चीन (India China Dispute) के बीच मई से ही सीमा विवाद चल रहा है। दोनों देशों के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन अब तक कोई निष्कर्ष नहीं निकला है। सीमा पर दोनों ही देशों ने हथियारों और सैनिकों की संख्या को बढ़ा दिया है और अब तक तनाव जारी है।

गौरतलब है कि दोनों देशों (India China Dispute) के बीच अब तक 7 दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन सीमा पर स्थिति पहले की तरह तनावपूर्ण है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक आने वाले हफ्ते में अब दोनों देशों के बीच आठवें दौर की बातचीत हो सकती है।

ये भी पढ़ें- भारत-चीन विवाद: पूर्वी लद्दाख में पीएलए सैनिकों के साथ हिंसक झड़पों से दोनों देशों के रिश्तों में आई दरार- विदेश मंत्री

सीनियर अधिकारियों का मानना है कि हालात सामान्य ना होने की वजह से ये बातचीत बेहद महत्वपूर्ण है। बता दें कि इससे पहले हुई बातचीत के मुताबिक, चीनी सेना PLA का प्रस्ताव है कि दोनों पक्ष बख्तरबंद और तोपखाने को सीमा से हटाएं, उसके बाद पैदल सेना हटाई जाएगी, वहीं भारतीय पक्ष का कहना है कि बख्तरबंद को नहीं हटाया जा सकता, क्योंकि इससे विरोधी को लाभ हो सकता है।

गौरतलब है कि भारत और चीन के बीच 5 महीनों से सीमा पर तनाव चल रहा है। दोनों देशों की सेनाओं के बीच हिंसक झड़प हो चुकी है। 15 जून की रात गलवान घाटी में हुई झड़प में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हुए थे। वहीं चीन ने अपने जवानों के हताहत होने के बारे में जानकारी नहीं दी थी। हालांकि बाद में कई रिपोर्टों में ये खुलासा हुआ था कि इस झड़प में चीनी सेना के 43 जवान हताहत हुए।

ये भी देखें- 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें