छत्तीसगढ़ के कांकेर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में BSF के 4 जवान शहीद, 2 जख्मी

BSF

छत्तीसगढ़ के कांकेर में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में BSF के 4 जवान शहीद हो गए हैं। मुठभेड़ कांकेर जिले के पंखाजुर इलाके के परतापुर में हुई। बताया जा रहा है कि बीएसएफ के जवान सर्च ऑपरेशन पर निकले थे, तभी नक्सलियों ने जवानों पर हमला कर दिया। अचानक हुए हमले में 4 जवान शहीद हो गए। जबकि दो जवान जख्मी हो गए हैं।

बस्तर के डीआईजी पी सुंदरराज ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि महला स्थित बीएसएफ कैंप से जवान आरओपी के लिए सुबह करीब 7 बजे निकले थे। जवान बमुश्किल सात-आठ किलोमीटर दूर ही पहुंचे होंगे कि वहां पहले से घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने उन पर हमला कर दिया। इस हमले में एक सब इंस्पेक्टर समेत 4 जवान शहीद हो गए जबकि दो जवान घायल हो गए हैं।

यह भी पढ़ें: पुलवामा जैसी घटना रोकने के लिए हफ्ते में दो दिन बंद रहेगा बारामूला-उधमपुर हाइवे

जिस जगह पर मुठभेड़ हुई वो जिला मुख्यालय से करीब पौने दो सौ किलीमोटर दूर है। घटना के बाद बाकी जवानों को सुरक्षित महला कैंप ले जाया गया है। साथ ही आस-पास के इलाकों से बैकअप फोर्स को भी भेज दिया गया है। नक्सलियों और जवानों के बीच मुठभेड़ 4 अप्रैल को दोपहर 11.45 बजे शुरू हुई थी। नक्सलियों ने बीएसएफ की 114 बटालियन को निशाना बनाया। मुठभेड़ में कई नक्सली भी घायल हुए हैं। फिलहाल, सुरक्षाबलों ने इलाके को चारों तरफ से घेर लिया है।

शहीद हुए जवानों के नामः

  1. सउनि बोरो, सब इंस्पेक्टर, BSF
  2. एस. रामकृष्णन, आरक्षक
  3. सोमेश्वर, आरक्षक
  4. इशरार खान, आरक्षक

घायल हुए जवानों के नामः

  1. गोपूराम, सहायक कमांडेंट
  2. गोपाल राम, निरीक्षक

आपको बता दें कि कांकेर का परतापुर इलाका किसी जमाने में नक्सलियों का गढ़ हुआ करता था। यहां जाने से लोग कतराते थे। पिछले साल ही यानी 2018 में सुरक्षाबलों ने महला में कैंप बनाया, जिसके बाद से नक्सलियों की गतिविधियों में काफी कमी आई है।

यह भी पढ़ें: लेथपोरा हमले का मास्टर-माइंड गिरफ्तार

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव करीब आते ही नक्सलियों की गतिविधियां बढ़ गई हैं। इस इलाके में 18 अप्रैल को मतदान होना है। नक्सली काफी समय से इलाके में बैनर-पोस्टर लगाकर चुनाव का बहिष्कार करने का आह्वान कर रहे थे। चुनावी प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने और लोगों में दहशत फैलाने के लिए हाल ही में नक्सलियों ने कई हमले भी किए हैं, जिनमें आम नागरिक और जवान दोनों को निशाना बनाया गया है।

इससे पहले होली के मौके पर नक्सलियों ने बीजापुर में आम नागरिकों को निशाना बनाया था। तब नक्सलियों ने एक IED ब्लास्ट करके वाहन को उड़ा दिया था, जिसमें करीब 9 लोग जख्मी हुए थे। 18 मार्च को दंतेवाड़ा में भी नक्सलियों ने IED ब्लास्ट कर जवानों को निशाना बनाया था। उस हमले में एक जवान शहीद हुआ था।

यह भी पढ़ेंः अब चीन के होश उड़ाने आ रहा है ‘रोमियो

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here