BSF

सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने 23 जनवरी को जम्मू के हीरानगर सेक्टर के पानसर इलाके में आतंकियों की एक बड़ी साजिश नाकाम कर दी। BSF ने इलाके में एक और सुरंग का पता लगाया है।

ताजा मामला ये है कि 14 जनवरी को BSF ने एक पाकिस्तानी घुसपैठिए को मार गिराया है। ये घुसपैठिया भारतीय सीमा में गुरुदासपुर सेक्टर में घुस आया था।

BSF को मिली इस सुरंग की लंबाई करीब 150 मीटर है और इसमें सीमेंट की बोरियां बरामद हुई हैं। ये सीमेंट की बोरियां पाकिस्तान के कराची की हैं।

बीएसएफ की ओर से जारी बयान के मुताबिक, बॉर्डर आउट पोस्ट सोलक, 107 बटालियन, के जवान 11 जनवरी को गेट नंबर 37 पर चेकिंग कर रहे थे।

बीएसएफ विशेषकर पश्चिमी सीमा और पूरब में बांग्लादेश सीमा पर काफी एक्टिव है। भारत का एकमात्र सशस्त्र बल है जिसके अपना हवाई, समुद्री विंग और आर्टिलरी विंग है।

भारत और पाकिस्तान के बीच 1971 में युद्ध लड़ा गया था। इस युद्ध में हमारे वीर सपूतों ने पाकिस्तानी सेना के जवानों को हर मोर्चे पर विफल साबित किया था। पाकिस्तान सेना के 93 हजार सैनिकों ने भारत के सामने सरेंडर कर अपनी हार को स्वीकार किया था।

बीएसएफ द्वारा ये कार्रवाई बुधवार-गुरुवार देर रात करीब ढाई बजे की गई है। बीएसएफ के सूत्रों का कहना है कि अब इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जाएगा।

उस समय राकेश के घर में गमों का पहाड़ टूट पड़ा था और सबका रो-रोकर बुरा हाल था। लेकिन राकेश की शहादत के ठीक एक महीने बाद उनके घर में एक बार फिर खुशियां लौटी हैं।

एसआई राकेश कुमार का अंतिम संस्कार अबरोल नगर के श्मशान घाट में हुआ। माधोपुर से आई 121 बटालियन की सैन्य टुकड़ी ने पूरी सैन्य प्रकिया के साथ उनका संस्कार किया और उन्हें सलामी दी।

जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में BSF ने सीमावर्ती गांव चक फकीरा में एक घुसपैठिए को मार गिराया। 23 नवंबर की शाम करीब साढ़े छह बजे सांबा जिले के चक फकीरा की भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर एक घुसपैठिया जीरो लाइन को पार कर तारबंदी के पास छिप कर आ रहा था।

जम्मू-कश्मीर के नगरोटा (Nagrota) में सुरंग (Tunnel) के रास्ते भारत में आतंकियों (Terrorists) की घुसपैठ की कोशिश को भारतीय जवानों ने नाकाम कर दिया। अब भारतीय सेना (Indian Army) इस मामले में तमाम सबूत जुटाने में लगी हुई है।

BSF में सब इंस्पेक्टर के पद पर तैनात शशांक रावत ड्यूटी के दौरान शहीद हो गए। उनका निधन हृदय गति रुकने की वजह से हुआ। वह 28 साल के थे।

इस साइकिल रैली ने करीब 71 किमी का सफर तय किया और श्रीडूंगरगढ़ पहुंची। इस दौरान साइकिलिस्टों ने समाज को कोरोना से बचाव का संदेश भी दिया।

बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) को मलकानगिरी के स्वाभिमान अंचल में बड़ी कामयाबी मिली है। BSF ने नक्सलियों द्वारा लगाए गए 7 IED को नष्ट कर दिया है।

एजेंट के पास से करीब 4 लाख रुपए मूल्य के 10 मोबाइल फोन, 17 साड़ियां और दवाइयां बरामद हुई हैं। इन सबका एजेंट के पास कोई बिल नहीं था।

Jammu and Kashmir: भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के लिए पाकिस्तान की नई साजिश एक बड़ी चुनौती बनी हुई है। पाक अपने आतंकियों के लिए हथियार व ड्रग्स की तस्करी कर रहा है।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ की कोशिश नाकाम की है। साथ ही भारी मात्रा में ड्रग्स और हथियारों की तस्करी के प्रयास को भी नाकाम कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें