छत्तीसगढ़: बीजापुर में विस्फोटक बरामद; कांकेर में मुठभेड़, महिला नक्सली को लगी गोली

बीजापुर जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत पुलिस (Police) ने पंगुण की पहाडि़यों में नक्सलियों (Naxals) के द्वारा छिपाया गया सामान बरामद किया। दूसरी ओर, कांकेर के रावस इलाके में बड़ी घटना को अंजाम देने की तैयारी में जुटे नक्सलियों (Naxals) से पुलिस की मुठभेड़ हुई।

Naxals

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत पुलिस (Police) ने पंगुण की पहाडि़यों में नक्सलियों (Naxals) के द्वारा छिपाया गया सामान बरामद किया। एसपी कमलोचन कश्यप के मुताबिक, नक्सल विरोधी अभियान के तहत 3 और 4 जून को डीआरजी (DRG) के जवान नक्सलियों का पता लगाने के लिए पंगुण पहाड़ी की ओर गए थे।

इस दौरान नक्सलियों (Naxalites) के द्वारा जगह-जगह छिपाए गए स्टील कंटेनर, विस्फोटक सामग्री, इलेक्ट्रिक वायर, दवाइयां, नक्सली साहित्य और दैनिक उपयोग की सामग्री वाली वस्तुओं को बरामद किया। एसपी के अनुसार, सर्चिंग ऑपरेशन में नक्सली (Naxali) कई बार अपने सामान छोड़कर भाग जाते हैं।

बिहार: औरंगाबाद-गया सीमा पर मुठभेड़, जान बचाकर जंगल में भागे नक्सली

कांकेर में मुठभेड़: उधर दूसरी ओर, कांकेर के रावस इलाके में बड़ी घटना को अंजाम देने की तैयारी में जुटे नक्सलियों (Naxals) से पुलिस की मुठभेड़ हुई। सर्च ऑपरेशन पर निकली सुरक्षाबलों की टीम का 3 जून की दोपहर छिंदखड़क के पास नक्सलियों से सामना हो गया। ऑपरेशन में शामिल जवानों के मुताबिक, मुठभेड़ में एक महिला नक्सली (Woman Naxali) को गोली लगी, जिसे उसके साथी नक्सली लेकर भाग गए। घटनास्थल की तलाशी लेने पर वहां से कुकर बम के अलावा बारूद और अन्य सामान जब्त किए गए।

पुलिस को मिल रही थी नक्सली गतिविधियों की सूचना: दरअसल, पुलिस (Police) को लगातार सूचना मिल रही थी कि रावस इलाके में नक्सली गतिविधियां बढ़ी हैं। पुलिस की टीम लगातार उस इलाके के ठेमा, भर्रीपारा, छिन्दखड़क, सराईपानी, रावस में गश्त कर रही थी। 3 जून को दोपहर पुलिस टीम गश्त कर रही थी, इसी दौरान छिंदखड़क पहाड़ी जंगल में एंबुश लगाकर बैठे नक्सलियों (Naxalites) ने पुलिस को अपनी ओर आता देख अंधाधुन फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस पार्टी ने भी जवाबी कार्रवाई शुरू की।

भारत-चीन सीमा पर तनातनी: आज की मुलाकात से बनेगी बात या लंबा चलेगा लद्दाख में विवाद

महिला नक्सली को लगी गोली: इस दौरान एक महिला नक्सली को गोली लगी। एक घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद नक्सली भागने लगे। मुठभेड़ (Encounter) खत्म होने के बाद इलाके की घेराबंदी कर जब घटनास्थल की तलाशी ली गई तो वहां से 5 किलो का एक प्रेशर कुकर बम बरामद किया गया, जिसे मौके पर ही ब्लास्ट कर नष्ट कर दिया गया। इसके अलावा बिजली वायर, पिट्‌ठू 2 नग और भारी मात्रा में नक्सलियों (Naxals) के दैनिक उपयोग के सामान बरामद किए गए।

रावस एलजीएस और सीतानदी एरिया कमेटी के नक्सली थे शामिल: जानकारी के अनुसार, छिंदखड़क में हुई मुठभेड़ में रावस एलजीएस और सीतानदी एरिया कमेटी के मेंबर शामिल थे। इसमें सीतानदी डीवीसी सत्यम गावड़े और उसकी टीम भी शामिल थी। पिछले साल इसी इलाके में पुलिस ने रावस एलजीएस की कमान संभाल रही सीतानदी एरिया कमेटी की सचिव महिला नक्सली सीमा मंडावी को मुठभेड़ में मार गिराया था।

इलाके में कमजोर पड़ गया है नक्सली संगठन: इसके साथ ही महिला नक्सली (Woman Naxali) के पति मोहिबा को भी कुछ दिन बाद गिरफ्तार कर लिया गया था। इसके बाद से रावस और छिंदखड़क इलाके में नक्सली संगठन कमजोर पड़ गया था। बताया जा रहा है कि संगठन को दोबारा खड़ा करने के लिए डीवीसी (डिवीजन सेक्रेटरी) सत्यम गावड़े काम कर रहा था जो सीतानदी एरिया कमेटी, रावस एलजीएस और गोबरा दलम की कमान संभाल रहा है।

यह भी पढ़ें