गढ़चिरौली: लाल आतंक के खिलाफ पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 18 लाख के इनामी नक्सली दंपति गिरफ्तार

पुलिस ने 10 अगस्त को एक नक्सली और उसकी पत्नी को गढ़चिरौली जिले के जंगलों से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार दोनों नक्सलियों (Naxalites) पर कुल 18 लाख रुपये का इनाम घोषित था।

Jammu And Kashmir

सांकेतिक तस्वीर।

महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ की सीमा से पुलिस (Police) को नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने 10 अगस्त को एक नक्सली और उसकी पत्नी को गढ़चिरौली जिले के जंगलों से गिरफ्तार (Arrested) कर लिया। गिरफ्तार दोनों नक्सलियों (Naxalites) पर कुल 18 लाख रुपए का इनाम घोषित था। यह जानकारी पुलिस ने एक बयान जारी कर दी।

पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया कि गिरफ्तार किए गए नक्सली (Naxali) की पहचान यशवंत उर्फ दयाराम बोगा (35) के रूप में की गई है। वह टीपागढ़ दलम की डिविजनल कमेटी का सदस्य था। उसकी पत्नी शारदा उर्फ सुमित्रा नेताम (32) भी एक सक्रिय नक्सली है। सुमित्रा के खिलाफ गढ़चिरौली में कई मामले लंबित हैं।

कोरोना संक्रमित होने के बाद वेंटिलेटर सपोर्ट पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, हुई ब्रेन सर्जरी, जानें कैसी है तबीयत

इसमें कहा गया है कि बोगा साल 2009 में टीपागढ़ दलम में शामिल हुआ था। वह वर्तमान में इसकी डिवीजनल कमेटी का सदस्य है। पुलिस के मुताबिक, बोगा पुलिस-नक्सलियों के बीच हुई लगभग 35 मुठभेड़ों में शामिल था। उसके सिर पर प्रशासन की ओर से 16 लाख रुपए का नकद इनाम घोषित था। बोगा के खिलाफ गढ़चिरौली जिले के विभिन्न पुलिस थानों में 87 संगीन मामले लंबित हैं।

यह भी देखें-

पुलिस के अनुसार, नक्सली बोगा साल 2019 में दादापुर में वाहनों को जलाने और एक मई, 2019 को जम्भुलखेड़ा में हुए विस्फोट में शामिल था। इस विस्फोट में 15 पुलिसकर्मी और एक चालक की जान गई थी। वहीं, बोगा की पत्नी और सक्रिय नक्सली शारदा नेताम पर दो लाख रुपए का नकद इनाम घोषित है। नक्सली शारदा के खिलाफ नक्सली वारदात के 47 मामले दर्ज हैं। इन दोनों (Naxalites) की गिरफ्तारी पुलिस के लिए बड़ी सफलता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें