छत्तीसगढ़: कबीरधाम में 2 इनामी नक्सलियों ने किया सरेंडर, हुए थे कोरोना पॉजिटिव

छत्तीसगढ़ (Chhattiagrah) के कबीरधाम जिले में 23 जून को एक महिला नक्सली (Woman Naxalite) समेत दो इनामी नक्सलियों (Naxalites) ने सुरक्षाबलों के सामने आत्मसमर्पण (Surrender) कर दिया।

Naxalites

सांकेतिक तस्वीर

दोनों ने नक्सलियों (Naxalites) द्वारा छिपाए गए दस लाख रुपये नगद, बारूदी सुरंग और अन्य सामान की जानकारी भी पुलिस को दी, जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया है।

छत्तीसगढ़ (Chhattiagrah) के कबीरधाम जिले में 23 जून को एक महिला नक्सली (Woman Naxalite) समेत दो इनामी नक्सलियों (Naxalites) ने सुरक्षाबलों के सामने आत्मसमर्पण (Surrender) कर दिया। कबीरधाम जिले के पुलिस अधिकारियों ने यहां बताया कि जिले में सुरक्षाबलों के सामने भोरमदेव एरिया कमेटी के सचिव दिवाकर उर्फ किशन और कमेटी की सदस्य देवे उर्फ लक्ष्मी ने आत्मसमर्पण कर दिया है।

पुलिस अधिकारियों को अनुसार, दिवाकर पर छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से आठ लाख रुपये और मध्यप्रदेश सरकार की ओर से पांच लाख रुपये यानी कुल 13 लाख रुपये का इनाम घोषित था। वहीं, देवे पर छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से दो लाख रुपए और मध्यप्रदेश सरकार की ओर से तीन लाख रुपये यानी कुल पांच लाख रुपये का इनाम घोषित था।

बिहार: जमुई में नक्सलियों के खिलाफ एक्शन में पुलिस, बढ़ते दबाव के चलते 3 ने किया सरेंडर

कबीरधाम जिले के पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा के अनुसार, पिछले महीने की नौ तारीख को पुलिस को छत्तीसगढ़-मध्य प्रदेश सीमा पर जंगलों में संदिग्ध महिला-पुरुष के संबंध में जानकारी मिली थी। सूचना के बाद पुलिस दल को क्षेत्र में रवाना किया गया।

दल जब वहां पहुंचा तब पुलिस को देखकर दोनों वहां से भागने लगे। बाद में घेराबंदी कर जवानों ने दोनों को पकड़ लिया। लेकिन दोनों ही बीमार थे और उनका कोविड टेस्ट पॉजिटिव पाया गया था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दोनों से पूछताछ की गई तब उन्होंने अपना परिचय दिया।

छत्तीसगढ़: 25 लाख के खूंखार इनामी नक्सली हिडमा को हुआ कोरोना, बस्तर के जंगलों में कर रहा मौत का इंतजार

पूछताछ के बाद दोनों नक्सलियों (Naxalites) को मेडिकल टेस्ट के लिए जिला मुख्यालय लाया गया, जहां उनका कोविड-19 परीक्षण कराया गया। दोनों ही कोरोना पॉजिटिव निकले, इसके बाद उनका इलाज कराया गया। पुलिस के मुताबिक, ठीक होने पर दोनों ने हिंसा की राह छोड़ने की इच्छा जताई और आत्मसमर्पण करने का फैसला किया।

ये भी देखें-

इन दोनों ने नक्सलियों (Naxalites) द्वारा छिपाए गए दस लाख रुपये नगद, बारूदी सुरंग और अन्य सामान की जानकारी भी पुलिस को दी, जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जून को दोनों नक्सलियों ने पुलिस के सामने औपचारिक रूप से सरेंडर कर दिया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें