Madhya Pradesh: राज्य में बिहार के सुपर-30 की तर्ज पर बनेगा श्रमोदय स्कूल

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में बिहार (Bihar) के सुपर-30 (Super-30) की तर्ज पर एक श्रमोदय स्कूल बनेगा, जिसमें बिना जाति और समुदाय के आधार पर सिर्फ श्रमिकों के बच्चों को शिक्षा दी जाएगी।

Shivraj Singh Chouhan

शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने आहार अनुदान योजना में सहरिया, बैगा, भारिया जाति की महिलाओं के खाते में सिंगल क्लिक से 21 करोड़ 92 लाख रुपए डाले।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में बिहार (Bihar) के सुपर-30 (Super-30) की तर्ज पर एक श्रमोदय स्कूल बनेगा, जिसमें बिना जाति और समुदाय के आधार पर सिर्फ श्रमिकों के बच्चों को शिक्षा दी जाएगी। इसमें सारी व्यवस्थाएं सुपर-30 की तरह ही होंगी, ताकि बच्चे प्रतिभाशाली बनकर भविष्य तय करें।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने 28 जनवरी को आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश को लेकर बैठक की। इसमें उन्होंने कहा कि यह विकास की दिशा में ठोस कदम है।

Chhattisgarh: जन प्रतिनिधियों को निशाना बना रहे नक्सली, पुलिस ने किया अलर्ट

इसके अलावा, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आहार अनुदान योजना में सहरिया, बैगा, भारिया जाति की महिलाओं के खाते में सिंगल क्लिक से 21 करोड़ 92 लाख रुपए डाले। करीब दो लाख 19 हजार महिलाओं के खाते में राशि पहुंची।

वीडियो कांफ्रेंसिग में सीएम ने महिलाओं से कहा कि अब हर माह उनके खाते में एक हजार रुपए पोषण राशि के पहुंचेंगे। उन्होंने महिलाओं से कहा कि वे स्व सहायता समूहों से जुड़ें।

ये भी देखें-

मुख्यमंत्री चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि रोजगार सेतु पोर्टल को रोजगार प्राप्ति में अधिक कारगर बनाने के लिए पोर्टल का विस्तार किया जाए। कोरोना काल में करीब 44 हजार प्रवासी श्रमिकों का आर्थिक संवर्धन करने वाले इस पोर्टल में अन्य श्रमिकों का पंजीयन कर उन्हें भी लाभ दिया जाए। उन्होंने कहा कि 35 विभाग में से 21 विभाग के कार्यों की समीक्षा पूरी हो गई है। आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का लक्ष्य समय सीमा में हासिल करेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें