Madhya Pradesh

सरकार जहां एक ओर नक्सलियों का प्रभाव कम करने के लिए रणनीति बनाने पर जोर दे रही है, वहीं इस इलाके में कारोबार के विस्तार पर खास ध्यान दे रही है।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बालाघाट जिले में नक्सलियों (Naxalites) की कमर तोड़ने के लिए पुलिस (Police) स्थानीय लोगों के साथ लगातार बातचीत कर रही है और उनमें विश्वास मजबूत कर रही है।

बालाघाट जिले में पुलिस (Police) को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने 8 लाख के इनामी नक्सली (Naxalite) खटिया मोचा दलम के एसीएम संदीप उर्फ लक्खू को गिरफ्तार किया है।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) बालाघाट जिले में पुलिस (Police) को नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ कामयाबी मिली है। वहीं, दूसरी घटना में जवानों की नक्सलियों के साथ मुठभेड़ (Naxal Encounter) हुई है।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुरैना जिले की नूराबाद पुलिस ने छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सलियों (Naxalites) से खरीदा गया गांजा बरामद किया है।

मध्य प्रदेश में बारिश और बाढ़ (MP Flood) की वजह से हालात बिगड़ गए हैं। लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने का काम लगातार (Rescue Operation) चल रहा है। भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) ने भी राहत और बचाव कार्यों के लिए मोर्चा संभाला हुआ है।

भारतीय सेना (Indian Army) देश की रक्षा के साथ-साथ नागरिकों की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी निभाती है। इंडियन आर्मी देश के लोगों की हर संभव मदद के लिए तत्पर रहती है।

मध्य प्रदेश में नक्सलियों के खिलाफ अभियान जारी है, फिर भी नक्सली अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। वे ग्रामीण और शहरी इलाकों में अपने संगठन के विस्तार में लगे हुए हैं।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में एक बार फिर नक्सली गतिविधियां (Naxal Activities) बढ़ने लगी हैं। राज्य में नक्सलियों का नेटवर्क तेजी से फैल रहा है।

बारिश के दिनों में नक्सली गतिविधियां (Naxal Activites) होती रहती हैं, पर उनका मूवमेंट कम होता है। घने जंगलों वाले इलाके ही नक्सलियों (Naxalites) के सेफ जोन हैं।

पुलिस ने 7 जुलाई को 8 लोगों को गिरफ्तार किया था और उनके कब्जे से गोला-बारूद और विस्फोटक बरामद किया था। इस सामान को नक्सलियों (Naxalites) को दिया जाना था।

नक्सलियों (Naxalites) के अरबन नेटवर्क पर बड़ी खबर सामने आई है। ये नेटवर्क मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के अलावा कई राज्यों में फैला है।

पुलिस ने उनसे AK-47 सहित बड़ी मात्रा में हथियार और विस्फोटक सामग्री जब्त की है। ये हथियार नक्सलियों (Naxalites)  को सप्लाई किए जाने वाले थे। 

केंद्र सरकार ने डिंडौरी को नक्सल (Naxalites) प्रभावित जिला घोषित किया। इससे पहले बालाघाट और मंडला इस लिस्ट में शामिल थे।

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के बालाघाट जिले में पुलिस (Police) को एंटी नक्सल ऑपरेशन (Anti Naxal Operation) में बड़ी कामयाबी मिली है।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बालाघाट जिले में पुलिस (Police) ने विस्फोटक (Explosive) जब्त कर नक्सलियों (Naxalites) के नापाक मंसूबों को नाकाम कर दिया है।

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के बालाघाट जिले में नक्सलियों (Naxalites) की कायराना हरकत सामने आई है। यहां 30 जून की सुबह नक्सलियों ने एक ग्रामीण की हत्या (Murder) कर दी है।

यह भी पढ़ें