बड़ी तबाही मचाने के चक्कर में थे नक्सली, सुरक्षाबलों ने साजिश किया नाकाम

naxal, Chhattisgarh, Dantewada, Naxalite, police action, naxal camp exposed, sirf sach, sirfsach.in

छत्तीसगढ़ में नक्सल प्रभावित जिला दंतेवाड़ा में पुलिस ने एक नक्सल शिविर का पर्दाफाश किया है। बीजापुर और दंतेवाड़ों की ज्‍वाइंट फोर्स ने बैलाडिला के बीहड़ में 4 जून को अलग-अलग स्थानों पर तीन नक्‍सली कैंप ध्‍वस्‍त किया। हालांकि कैंप तक पहुंचने से पहले नक्‍सली भाग निकले थे। दरअसल, दांतेवाड़ा और बीजापुर पुलिस ने एक संयुक्त अभियान के दौरान कुरंदुल, मिरतुर और गंगालूर पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में यह कामयाबी हासिल की है। यहां कैंपों में नक्‍सली लीडर गणेश उइके व अन्‍य नक्सलियों के मौजूदगी की सूचना थी। इस पुलिस अभियान में डीआरजी दांतेवाड़ा, दांतेवाड़ा एसटीएफ, सीआरपीएफ की 230 बाटालियन, कोबरा फोर्स, बीजापुर डीआरजी, बीजापुर एसटीएफ शामिल थी।

पुलिस की इस टीम ने इस नक्सल शिविर से 10 आईईडी, तार, नक्सल वाकी-टाकी सेट, दवाएं और बड़े पैमाने पर नक्सल साहित्य बरामद किया। बैलाडिला पहाड़ के नीचे दंतेवाड़ा के किरंदुल थाना सहित बीजापुर के मिरतुर और गंगालूर थाना क्षेत्र से लगे जंगलों में नक्‍सलियों ने कैंप किया था। इसकी सूचना पर दो दिन पहले दंतेवाड़ा और बीजापुर की फोर्स सर्चिंग के लिए बीहड़ में घुसी। सुरक्षाबलों ने 4 मई को बीहड़ में तीन अलग-अलग जगह नक्‍सली कैंप देखा। जवानों ने घेराबंदी शुरू कर दिया लेकिन इस बीच फायरिंग करते हुए नक्‍सली भागने में कामयाब रहे। सुरक्षाबलों ने कैंप से बड़ी मात्रा में नक्‍सल सामग्री बरामद किया है। इनमें दस नग बम, नक्‍सलियों के वॉकीटॉकी, दवाइयां, बिजली के तार के अलावा नक्‍सल साहित्‍य व रोजमर्रा की जरूरत वाले सामान शामिल हैं।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, कैंप में नक्‍सलियों के स्‍पेशल जोनल कमेटी सदस्‍य गणेश उइके, चैतू, श्‍याम और अन्‍य मौजूद थे। माना जा रहा है कि नक्‍सली यहां गणेश उइके के उपचार के साथ ही किसी वारदात को अंजाम देने से पहले प्लानिंग के लिए इकट्ठे हुए थे। इस ऑपरेशन के लिए दंतेवाड़ा के किरंदुल थाने से डीआरजी, एसटीएफ, सीआरपीएफ 230 बटालियन के जवानों के साथ बीजापुर के मिरतुर व गंगालूर से भी फोर्स दो दिन पहले निकली थी। एसपी डॉ. अभिषेक पल्‍लव के मुताबिक, तीन अलग-अलग जगह नक्‍सलियों का कैंप ध्‍वस्‍त किया गया। इस दौरान नक्‍सलियों ने 50-60 राउंड फायरिंग भी की। फायरिंग में सुरक्षाबलों को कोई नुकसान नहीं हुआ। नक्‍सलियों के कैंप से बम, वॉकीटॉकी, दवाएं आदि बरामद हुईं।

यह भी पढ़ें: इंजीनियरिंग का ये स्टूडेंट ऐसे बना खूंखार आतंकी, ‘खलीफा’ बनने का सवार था जुनून

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here