मध्य प्रदेश: बालाघाट में पुलिस की नक्सलियों से मुठभेड़, रात के अंधेरे का फायदा उठाकर भागे नक्सली

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बालाघाट जिले में नक्सली मुठभेड़ (Naxal Encounter) हुई। जिले के नक्सल प्रभावित मलाजखंड थाना के पुलिस चौकी पाथरी के जंगलों में 23 मई की रात करीब 11.30 बजे के दौरान पुलिस-नक्सली के बीच मुठभेड़ (Naxal Encounter) हुई।

Naxal Encounter

फाइल फोटो।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बालाघाट जिले में नक्सली मुठभेड़ (Naxal Encounter) हुई। जिले के नक्सल प्रभावित मलाजखंड थाना के पुलिस चौकी पाथरी के जंगलों में 23 मई की रात करीब 11.30 बजे के दौरान पुलिस-नक्सली के बीच मुठभेड़ (Naxal Encounter) हुई। हालांकि इस घटना में किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है।

मुठभेड़ (Naxal Encounter) के बाद रात के अंधेरे का फायदा उठाकर नक्सली (Naxalites) जंगल के रास्ते भाग गए। इधर घटना के बाद जंगल में सर्चिंग तेज कर दी गई है। जानकारी के अनुसार पुलिस को सूचना मिली थी कि कुछ नक्सली क्षेत्र में सक्रिय हैं, जो तेंदूपत्ता फंड मुंशी के पास पहुंच रहे हैं। सूचना मिलने के बाद सुरक्षाबलों को जंगल में सर्चिंग के लिए रवाना किया गया था।

मुखबिरी का आरोप लगा नक्सलियों ने कपल को उतारा मौत के घाट, पर्चा भी फेंका

रात में जंगल में एक जगह पर ठहरे जवानों को रोशनी दिखाई दी। सुरक्षाबलों ने आवाज लगाई तो उस ओर से सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी गई। जवाब में सुरक्षाबलों ने भी फायरिंग की। मुठभेड़ (Naxal Encounter) कुछ देर बाद बंद हो गई। सर्चिंग कर रही टीम उक्त स्थल पहुंची तो वहां कोई नहीं था। सर्चिंग टीम को स्थल से एक मोबाईल फोन मिला है, जिसे सुरक्षाबलों ने जब्त कर लिया है। पुलिस का मानना है कि सुरक्षाबलों पर फायर करने वाले मलाजखंड दलम के नक्सली (Naxali) थे, जिनकी संख्या लगभग 13 से 15 थी।

बालाघाट के एसपी अभिषेक तिवारी के अनुसार, मलाजखंड थाना अंतर्गत पाथरी के जंगल में 23 मई की रात सर्चिंग करने पहुंची टीम पर नक्सलियों की ओर से फायरिंग की गई जिसका जवाब सुरक्षाबलों ने दिया है। हमें जानकारी मिली थी कि नक्सली तेंदूपत्ता फंड मुंशी के पास पहुंच रहे है, जिसे देखते हुए दिन में सुरक्षाबलों को जंगल में सर्चिंग के लिए रवाना किया गया था, लेकिन दिन में कोई आमना-सामना नहीं हुआ। रात लगभग 11.30 बजे जहां सुरक्षाबल के जवान सर्चिंग के बाद रेस्ट कर रहे थे। उस दौरान ही कुछ दूरी पर रोशनी देखे जाने के बाद जब सुरक्षाबलों ने आवाज दी तो दूसरी ओर से फायरिंग शुरू हो गई जिसका सुरक्षाबलों ने भी कड़ा जवाब दिया है। हालांकि किसी के हताहत होने की कोई जानकारी नहीं है।

यह भी पढ़ें