जम्मू-कश्मीर: श्रीनगर में BSF पर आतंकी हमला, दो जवान शहीद

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के श्रीनगर में सीमा सुरक्षा बल (BSF) की टीम पर आतंकियों (Terrorists) ने हमला कर दिया। इस हमले में दो जवान शहीद हो गए।

BSF

फाइल फोटो

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के श्रीनगर में सीमा सुरक्षा बल (BSF) की टीम पर आतंकियों (Terrorists) ने हमला कर दिया। इस हमले में दो जवान शहीद हो गए। जानकारी के मुताबिक, 20 मई को बीएसएफ (BSF) के गश्ती दल पर श्रीनगर के पंडाक चौक इलाके में आतंकियों ने 37वीं बटालियन के जवानों पर हमला कर दिया। इस हमले में दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बाद में दोनों की जान चली गई। शहीद होने वाले जवानों के नाम राणा मंडोल और जिआउल हक हैं।

बीएसएफ (BSF) ने के मुताबिक, पूरे इलाके की घेराबंदी की गई है और जांच की जा रही है। आतंकवादियों (Terrorists) के खिलाफ जम्मू-कश्मीर में लगातार ऑपरेशन चलाए जा रहे हैं। हाल में सुरक्षाबलों ने कई आतंकवादियों को घाटी में ढेर किया है। 20 मई को ही श्रीनगर के नवाकदल में हुए मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए।

भारत में लगातार बढ़ रहा संक्रमण, पिछले 24 घंटों में सामने आए साढ़े 5 हजार से अधिक मामले

इनमें से एक अलगाववादी गुट हुर्रियत के चेयरमैन मोहम्मद अशरफ खान का छोटा बेटा जुनैद खान था। दूसरा आतंकवादी तारिक अहमद शेख पुलवामा का रहना वाला था। बता दें जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने 19 मई को कहा था कि एलओसी (LoC) के पार पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में 300 से ज्यादा आतंकवादी मौजूद हैं और वे भारत में घुसपैठ करने की फिराक में हैं।

सिंह ने बताया था कि जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों (Terrorists) की घुसपैठ कराने के पाकिस्तान के मंसूबे को नाकाम करने के लिए सुरक्षाकर्मी पूरी चौकसी बरत रहे हैं। उन्होंने पुलिस मुख्यालय में बताया कि जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में घुसपैठ करने के इरादे से उस तरफ बड़ी संख्या में आतंकवादी जमा हैं।

कश्मीर घाटी में घुसपैठ की करीब चार घटनाएं पहले ही हो चुकी हैं और राजौरी-पुंछ इलाके में इस तरह के दो-तीन प्रयास हुए हैं। इस पर चिंता प्रकट करते हुए डीजीपी ने कहा कि पाकिस्तान की आईएसआई, सेना और अन्य एजेंसियां बहुत सक्रिय हैं और आतंकी ठिकाने में प्रशिक्षित आतंकवादी (Terrorists) तैयार हैं।

यह भी पढ़ें