जम्मू कश्मीर: घरोटा से बरामद हुए ड्रोन का सच आया सामने, पुलिस ने ली चैन की सांस

इस ड्रोन के मिलने से सुरक्षाबल काफी चौकन्ने हो गए लेकिन जब ये मालूम हुआ कि ये ड्रोन केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी का है, तो घरोटा (Gharota) पुलिस ने चैन की सांस ली।

Drone

सांकेतिक तस्वीर

Gharota: मंगलवार दोपहर 12 बजे के करीब घरोटा के गांव सजवाल के मीर मोहम्मद ने एक ड्रोन को झाड़ियों में गिरते देखा था। इसकी सूचना उन्होंने SHO घरोटा को दी थी। इसके बाद पुलिस ने साइबर एक्सपर्ट टीम को भी बुला लिया था। इसके बाद ड्रोन को कब्जे में ले लिया गया था।

जम्मू: घरोटा (Gharota) से जिस ड्रोन के मिलने के बाद अटकलें लगाई जा रही थीं, उसके बारे में पूरी जानकारी मिल गई है और वो ड्रोन केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी का निकला है।

दरअसल इस ड्रोन के मिलने से सुरक्षाबल काफी चौकन्ने हो गए थे। लेकिन जब ये मालूम हुआ कि ये ड्रोन केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी का है, तो घरोटा पुलिस ने चैन की सांस ली।

झारखंड और पश्चिम बंगाल की पुलिस ने नक्सलियों के खात्मे के लिए मिलाया हाथ, इस 15 लाख के इनामी नक्सली की तलाश

बता दें कि मंगलवार दोपहर 12 बजे के करीब घरोटा के गांव सजवाल के मीर मोहम्मद ने एक ड्रोन को झाड़ियों में गिरते देखा था। इसकी सूचना उन्होंने SHO घरोटा को दी थी। इसके बाद पुलिस ने साइबर एक्सपर्ट टीम को भी बुला लिया था। इसके बाद ड्रोन को कब्जे में ले लिया गया था।

बाद में एक केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी ने पुलिस को बताया कि ये ड्रोन उनका है और वह इलाके में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल कर रहे थे। किसी तकनीकी खराबी की वजह से वो ड्रोन जमीन पर गिर गया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें