रिमोट दबा और दुश्मन हो जाएगा खाक, Indian Army को मिलेगा आसमान में उड़ने वाला बम

भारतीय सेना (Indian Army) को एक ऐसा बम मिलने वाला है जो दुश्मन के इलाके में मंडराता रहेगा और उसे इसकी भनक तक नहीं लगेगी। हमारे जवानों को दुश्मनों पर हमला करने के लिए सरहद पार करने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी। बस, रिमोट का बटन दबा और दुश्मन खाक हो जाएगा। सरकार ने ऐसे एक सौ आसमानी बम हासिल करने का टेंडर जारी किया है। इस बम का नाम है ‘ल्वाइटरिंग मुनीटन’ (Loitering Munition)।

Loitering Munition
ल्वाइटरिंग मुनीटन को ग्राउंड कंट्रोलर से भी कंट्रोल किया जा सकता है।

ये है खासियत: आसमान में 4,500 मीटर की ऊंचाई पर उड़ता हुआ यह बम दुश्मन के इलाके में अपने लक्ष्य को खोजकर उस पर हमला करेगा। ल्वाइटरिंग मुनीटन को सेना अपने इलाके से लांच करेगी। यह आसमान में 15 किलोमीटर दूर तक उड़ सकता है। इसे जमीन से निर्देश दिया जाएगा कि उसे किस लक्ष्य पर हमला करना है।

ल्वाइटरिंग मुनीटन (Loitering Munition) को जवान अपने कंधे पर रख कर छोड़ सकते हैं। इस बम का वजन 20 किलोग्राम है। यह आसमान में आधे घंटे तक रह सकता है। यह बम जमीन से 300 किलोमीटर से लेकर 4,500 मीटर ऊपर तक उड़ सकता है। ल्वाइटरिंग मुनीटन को ग्राउंड कंट्रोलर से भी कंट्रोल किया जा सकता है।

लाल आतंक के गढ़ में कैसे लिखी जा रही विकास की इबारत, पढ़ें ‘सरकारी अफसरों का गांव’ की कहानी…

इस बम को दुश्मन इलेक्ट्रॉनिक जैमरों से भी जैम नहीं कर पाएंगे। यह बम दुश्मन के इलाके में किसी सैनिक ठिकाने को आसानी से ध्वस्त कर सकता है। इसे किसी विमान या हेलिकॉप्टर से भी जमीन दुश्मन के ठिकाने को नष्ट करने के लिए गिराया जा सकता है।

इजराइली फर्म से हुआ है समझौता: सेना (Indian Army) के लिए ल्वाइटरिंग मुनीटन (Loitering Munition) को हासिल करने के लिए सूचना मांगने का आग्रह (आरएफआई) बीते 6 मार्च को जारी किया गया था। गौरतलब है कि बीते जनवरी में इजराइली फर्म ‘यू विजन एयर’ ने इन ल्वाइटरिंग मुनीटन को भारत में बनाने के लिए संयुक्त उद्यम स्थापित करने का एक समझौता किया था। यह कम्पनी प्रीसीजन एटैक ल्वाइटरिंग मुनीटन (पीएएलएम) हीरो सिस्टम्स का निर्माण भारत में करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here