कोरोना का कहर: विश्व में 13 हजार लोगों की मौत, भारत में 6 की मौत, इटली का बुरा हाल

दुनियाभर में कोरोना महामारी के कारण संक्रमित मरीजों की संख्या 3 लाख से ऊपर पहुंच चुकी है। दुनिया के 170 से ज्यादा देशों में फैल चुके इस घातक वायरस के कारण अब तक 13 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से मरने वालों की संख्या तेजी से बढ़ने के मद्देनजर युवाओं के भी इससे अछूता नहीं रहने की विश्व स्वास्थ्य संगठन की चेतावनी के बीच दुनिया भर में करोड़ों लोगों के लिए इस सप्ताह की शुरुआत बंद जैसी स्थिति और अपने–अपने घरों में ही रहने के साथ हुई। विश्वभर में कोविड़–19 (Coronavirus)  के संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 13 हजार हो गई है।

Coronavirus

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने आगाह किया है कि युवा भी वायरस (Coronavirus)  के संक्रमण से अछूते नहीं रहेंगे। उनके भी इस महामारी की चपेट में आने की पूरी आशंका है। इस वैश्विक महामारी ने पूरी दुनिया में जनजीवन को प्रभावित कर दिया है‚ बड़़ी आबादी की आवाजाही सीमित कर दी है‚ स्कूल एवं कारोबार बंद हो गए हैं और लाखों लोग घरों से काम करने के लिए मजबूर हैं जबकि कई की आजीविका छिन गई है।

पढ़ें- कोरोना से जंग: दवाओं-मशीनों के लिए सरकार ने दिया 14 हजार करोड़ का पैकेज

वायरस (Coronavirus)  के कारण बुजुर्ग और पूर्व में अन्य बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति सबसे अधिक प्रभावित हैं लेकिन तेदरोस ने कहा‚ आज मेरे पास प्रमुख तेदरोस अदहानोम गेब्रेयसस ने आगाह किया है कि युवा भी इस महामारी की चपेट में आ सकते हैं।

युवाओं के लिए WHO प्रमुख का संदेश

अब युवा भी इससे अछूते नहीं हैं। यह वायरस (Coronavirus)  हफ्तों तक आपको अस्पताल में भर्ती करा सकता है या आपकी जान भी ले सकता है। उन्होंने कहा‚ आप बीमार न भी पड़े तो आप कहां जाने के बारे में सोच रहे हैं यह किसी और के लिए जीवन और मौत के बीच का अंतर बन सकता है।

भारत में मरीजों की संख्या में तेजी

भारत में कोरोना (Coronavirus) से मौत का आंकड़ा अब 6 तक पहुंच गया है। यहां सबसे ज्यादा मरीजों की संख्या महाराष्ट्र में हो गई हैं जहां अभी तक 63 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं छठे मरीज की मौत भी महाराष्ट्र में ही हुई है जहां एक 63 साल के बुजुर्ग ने रात में दम तोड़ दिया। बिहार की राजधानी पटना के एम्स में भी एक 38 साल के मरीज की मौत हो गी।

देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या भी तेजी से बढ़ोत्तरी हुई है। आज दोपहर तक देश में कुल मरीजों की संख्या 344 हो गई है। जिसके कारण देश के 3 राज्य पूरी तरह से लॉक डॉउन की स्थिति में हैं। आज पीएम मोदी के आह्वान के बाद जनता कर्फ्यू का माहौल है लेकिन फिर भी मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा चिंता का विषय बना हुआ है।

अमेरिका ने आपात‚ राहत कार्यों को तेज किया

भले ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने इस बात पर जोर दिया है कि अमेरिका वायरस (Coronavirus)  के खिलाफ जंग ‘जीत’ रहा है लेकिन अलग–अलग राज्यों ने नाटकीय ढंग से प्रतिबंधों को कड़ा कर दिया है‚ जहां न्यूयार्क‚ इलिनोइस और कैलिफोर्निया ने लोगों को उनके घरों के भीतर रहने का आदेश दिया है।

इटली में हालात सबसे खराब

कोरोना वायरस महामारी के चलते इटली में शनिवार को सबसे बुरा दिन रहा जहां 793 और लोगों की मौत हो गई और प्रसार को रोकने के प्रयासों के बावजूद मृतकों की कुल संख्या 4,825 पर पहुंच गई है। फ्रांस‚ इटली‚ स्पेन और अन्य यूरोपीय देशों ने लोगों को घर पर रहने को कहा है और कुछ मामलों में जुर्माना लगाने की भी चेतावनी दी है।

बावरिया जर्मनी का पहला क्षेत्र है जिसने कामबंदी के आदेश दिए हैं। यूरोपीय संघ में अपने पड़ोसियों की राह पर चलते हुए ब्रिटेन ने भी कड़े प्रतिबंधों की घोषणा की है और पब‚ रेस्तरां और सिनेमाघरों को बंद करने को कहा है। साथ ही प्रभावित श्रमिकों की मजदूरी की भरपाई करने का वादा किया है।

<

p style=”text-align: justify;”> 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here