चीन ने एक बार फिर दिखाई दुनिया को अपनी ताकत, नौसेना में शामिल किए 3 खूंखार युद्धक जहाज

नए पोतों को शामिल करना चीनी नौसेना के व्यापक आधुनिकिरण का हिस्सा है जिसमें विमान वाहक पोत भी शामिल हैं। चीन (China) ने दो विमानवाहकों का निर्माण किया है।

China

China

चीन (China) ने तीन मुख्य युद्धपोतों को अपनी नौसेना में शामिल किया है। इनमें परमाणु ऊर्जा से संचालित बैलिस्टिक मिसाइल पनड़ुब्बी‚ एक विशाल विध्वंसक और देश का सबसे बड़ा तेज गति वाला युद्धक जहाज है जिसमें करीब 30 हेलीकॉप्टर और सैकड़ों जवान सवार हो सकते हैं।

संकट से जूझ रहे भारत के सिर पर मंडरा रहा है एक और खतरा, पाक की ISI ने रची कोरोना बम से हमले की साजिश

चीन (China) ने इन पोतों को राष्ट्रपति शी चिनफिंग की उपस्थिति में सानया में आयोजित एक समारोह के दौरान सेवा में शामिल किया गया। सानया हैनान प्रांत में विवादित दक्षिण चीन सागर में चीन का मुख्य नौसैन्य अड्डा है।

हांगकांग के साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने खबर दी कि सेवा में शामिल किए गए पोतों में 75 प्रकार के बेहद तेज गति वाले युद्ध जहाज शामिल हैं जो 30 हेलीकॉप्टरों और सैकड़ों जवानों को ले जा सकते हैं। यह चीन का सबसे विशाल युद्धक पोत है जो करीब चालीस हजार टन तक पानी को हटा सकता है।

सरकारी अखबार चाइना डेली ने खबर दी कि इस प्रकार की पनडुब्बी चीन (China) के परमाणु ऊर्जा संचालित बैलिस्टिक मिसाइल पनडुब्बियों की दूसरी पीढी श्रेणी की मानी जा रही है जिसने पुराने प्रकार पनडुब्बी की जगह ली है। खबर में कहा गया कि 055 प्रकार पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी नेवी (प्लान) का सबसे शक्तिशाली विध्वंसक पोत है जिसमें नए प्रकार की वायु रक्षा प्रणाली‚ मिसाइल रक्षा‚ पोत रोधी और पनड़ुब्बी रोधी हथियारों से लैस है।

नए पोतों को शामिल करना चीनी नौसेना के व्यापक आधुनिकिरण का हिस्सा है जिसमें विमान वाहक पोत भी शामिल हैं। चीन (China) ने दो विमानवाहकों का निर्माण किया है। आधिकारिक मीडिया खबरों में कहा गया है कि चीन की छह विमानवाहक पोतों के निर्माण की योजना है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें