बिहार पंचायत चुनाव: बिहार-झारखंड के सीमाई इलाकों में नक्सलियों पर कसी जाएगी लगाम, दोनों राज्यों के पुलिस अधिकारियों ने बनाया प्लान

बिहार (Bihar) में होने वाले पंचायत चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से पूरा कराने की तैयारी शुरू हो गई है। इसे लेकर झारखंड (Jharkhand) और बिहार के कई जिलों और थानों के पुलिस पदाधिकारियों ने बिहार के जमुई जिले के चकाई थाना में बैठक की।

Naxalites

सांकेतिक तस्वीर।

सीमाई इलाकों के जंगलों में छिपे नक्सली (Naxalites) झारखंड सीमापार कर बिहार में आकर चुनावों में गड़बड़ी करने की कोशिश कर सकते हैं।

बिहार (Bihar) में होने वाले पंचायत चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से पूरा कराने की तैयारी शुरू हो गई है। इसे लेकर झारखंड (Jharkhand) और बिहार के कई जिलों और थानों के पुलिस पदाधिकारियों ने बिहार के जमुई जिले के चकाई थाना में बैठक की। इस दौरान पंचायत चुनाव को लेकर बिहार और झारखंड के सीमावर्ती थानों के पुलिस पदाधिकारियों को खास निगरानी और सतर्कता बरतने की बात हुई।

जमुई जिले के पुलिस पदाधिकारियों के साथ-साथ गिरिडीह के भेलवाघाटी, देवरी, बेंगाबाद, तिसरी आदि थानों की पुलिस सीमाई इलाकों में संयुक्त छापेमारी अभियान चलाकर नक्सलियों (Naxalites) पर नकेल कसने की प्लानिंग की गई।

छत्तीसगढ़: दंतेवाड़ा में ‘लोन वर्राटू’ अभियान का असर, इनामी सहित 3 नक्सलियों ने किया सरेंडर

सीमाई इलाकों के जंगलों में छिपे नक्सली (Naxalites) झारखंड सीमापार कर बिहार में आकर चुनावों में गड़बड़ी करने की कोशिश कर सकते हैं। पहले भी ऐसा कई बार हो चुका है जब नक्सलियों ने चुनावों के दौरान हिंसक वारदातों को अंजाम दिया है।

ये भी देखें-

इसके अलावा, सीमाई इलाकों में चेक पोस्ट लगाकर निगरानी की जाएगी। साथ ही शराब तस्करों पर भी कड़ी नजर रखी जाएगी। देवघर और गिरिडीह की तरफ से आने वाले वाहनों की गहन तलाशी होगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें