बिहार: कई जिलों की पुलिस के लिए सिरदर्द बना नक्सली धराया, छापेमारी में चकमा देकर बच निकला था

मुंगेर, जमुई और लखीसराय जिले में होने वाली नक्सली वारदातों में अहम भूमिका निभाने वाले संगठन के सक्रिय सदस्य नक्सली आशुतोष कुमार को मुंगेर पुलिस ने 1 फरवरी की रात खड़गपुर थाना क्षेत्र के दरियापुर गांव से गिरफ्तार कर लिया।

Naxali

बिहार के कई जिलों की पुलिस के लिए सिरदर्द बना नक्सली (Naxali) आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

बिहार के कई जिलों की पुलिस के लिए सिरदर्द बना नक्सली (Naxali) आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया। नक्सली संगठन के सक्रिय सदस्य आशुतोष कुमार को मुंगेर पुलिस ने 1 फरवरी की रात खड़गपुर थाना क्षेत्र के दरियापुर गांव से गिरफ्तार कर लिया। वह मुंगेर, जमुई और लखीसराय जिले में होने वाली नक्सली वारदातों में अहम भूमिका निभाता था।

Naxali
बिहार के कई जिलों की पुलिस के लिए सिरदर्द बना नक्सली गिरफ्तार।

बिहार के कई जिलों की पुलिस के लिए सिरदर्द बना नक्सली (Naxali) आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया। नक्सली संगठन के सक्रिय सदस्य आशुतोष कुमार को मुंगेर पुलिस ने 1 फरवरी की रात खड़गपुर थाना क्षेत्र के दरियापुर गांव से गिरफ्तार कर लिया। वह मुंगेर, जमुई और लखीसराय जिले में होने वाली नक्सली वारदातों में अहम भूमिका निभाता था। एसपी लिपी सिंह ने 2 फरवरी को इसकी जानकारी दी।

नक्सलियों को देता था पुलिस की गतिविधि की खबर

एसपी के मुताबिक, गिरफ्तार आशुतोष नक्सली (Naxali) दस्ते का सक्रिय सदस्य है। वह संगठन के सदस्यों को मेडिकल सहायता उपलब्ध कराने के साथ ही पुलिस की गतिविधियों की खबर भी नक्सलियों तक पहुंचाता था। एसपी के अनुसार, खड़गपुर में इसके मौजूद होने की सूचना थी। जिसके बाद मुंगेर पुलिस बीते तीन दिनों से इसकी गतिविधियों पर पैनी नजर बनाए हुए थी। जानकारी पुख्ता हो जाने के बाद इस नक्सली को पकड़ने के लिए एक छापेमारी दल का गठन किया गया और 1 फरवरी की रात छापेमारी कर नक्सली आशुतोष को गिरफ्तार कर लिया गया। एसपी ने बताया कि मुंगेर पुलिस को आशुतोष की तलाश लड़ैयाटांड थाना कांड संख्या 36/19 में थी।

छापेमारी के दौरान बच निकला था

इस घटना में 3 सितंबर, 2019 को लड़ैयाटाड़ थाना क्षेत्र के न्यू पैसरा गांव में चल रहे नक्सलियों की बैठक की सूचना पर पुलिस ने वहां छापेमारी की थी। वहां से एक नक्सली (Naxali) गोरेलाल नैया को बंदूक और कारतूस के साथ गिरफ्तार किया गया था। पहाड़ी पर पुलिस छापामारी के दौरान अंधेरे का फायदा उठाकर अन्य नक्सली भाग निकले थे। पुलिस ने वहां से बड़ी संख्या में नक्सली साहित्य, पर्चे, पोस्टर और दूसरे आपत्तिजनक सामान बरामद किया था। पुलिस की कार्रवाई के दौरान गिरफ्तार नक्सली गोरेलाल नैया के बयान पर 19 नक्सलियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था। आशुतोष कुमार भी उन्हीं में एक है।

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को किया जाएगा पुरस्कृत

पुलिस अधीक्षक के अनुसार, गिरफ्तार आशुतोष कुमार के खिलाफ लड़ैयाटांड़ थाना कांड संख्या 36/19 में धारा 25(1-बी) ए, 26,35 आ‌र्म्स एक्ट, 18/20/22/23 यूएपीए (UAPA) के तहत मुकदमा दर्ज है। गिरफ्तार नक्सली को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। इस नक्सली (Naxali) को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को पुरस्कृत किया जाएगा।

पढ़ें: नक्सलियों की तस्वीर के साथ चिपकाया जा रहा है पोस्टर, जानकारी देने वालों को मिलेगा इनाम

यह भी पढ़ें