छत्तीसगढ़: 16 लाख के 2 इनामी नक्सलियों ने किया सरेंडर, बताई ये वजह

राज्य में नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। ताजा मामला कोंडागांव जिले का है। 2 नक्सलियों ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है।

Naxalite

One Naxalite arrested from West Singhbhum I सांकेतिक तस्वीर।

नक्सली नागेश 2005 में किस्टाराम एरिया में बाल संगठन में भर्ती हुआ था। इस समय वह कंपनी नंबर 6 का प्लाटून डिप्टी कमांडर था।

छत्तीसगढ़: राज्य में नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। ताजा मामला कोंडागांव जिले का है। यहां एक महिला समेत 2 नक्सलियों (Naxalites) ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है।

ये दोनों नक्सली 16 लाख के इनामी थे। यानी दोनों पर 8-8 लाख रुपए का इनाम था। कोंडागांव पुलिस ने बताया कि डिप्टी और सेक्शन कमांडर नागेश उर्फ बुधरू बैंजाम और सेक्शन सदस्य उर्मिला उर्फ सुकमति उसेण्डी ने सीनियर पुलिस अधिकारियों के सामने सरेंडर किया।

नक्सली नागेश 2005 में किस्टाराम एरिया में बाल संगठन में भर्ती हुआ था। इस समय वह कंपनी नंबर 6 का प्लाटून डिप्टी कमांडर था।

Bihar Election Result: बिहार में फिर बनेगी NDA सरकार, जीतीं 125 सीटें, महागठबंधन 110 सीटों पर सिमटा

वहीं महिला नक्सली उर्मिला उर्फ सुकमति उसेण्डी 2014 में भटबेड़ा क्षेत्र में जनमिलिशिया में शामिल हुई थी। इस समय वह मिलिट्री कम्पनी नंबर 6 में सेक्शन सदस्य के रूप में काम कर रही थी।

दोनों नक्सली बीते कई सालों में कई वारदातों में शामिल रहे हैं। सरेंडर करने वाले नक्सलियों ने बताया कि वह नक्सलियों द्वारा आम जनता के शोषण और काम से परेशान थे, इसलिए उन्होंने मुख्यधारा में शामिल होने का फैसला किया।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दोनों नक्सलियों को सरेंडर नीति के तहत 10-10 हजार की प्रोत्साहन राशि दी गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें