झारखंड: प्रशासन के खिलाफ कर रहे थे पोस्टरबाजी, कुख्यात महाराजा प्रमाणिक दस्ते के दो नक्सली धराए

झारखंड (Jharkhand) के नक्सल प्रभावित सरायकेला-खरसावां जिले से पुलिस ने दो नक्सलियों (Naxals) को गिरफ्तार किया है। जिले की खरसावां और कुचाई पुलिस ने कुख्यात नक्सली महाराज प्रमाणिक के दस्ते के दो नक्सलियों को गिरफ्तार किया है।

Naxals

सांकेतिक तस्वीर।

झारखंड (Jharkhand) के नक्सल प्रभावित सरायकेला-खरसावां जिले से पुलिस ने दो नक्सलियों (Naxals) को गिरफ्तार किया है। जिले की खरसावां और कुचाई पुलिस ने कुख्यात नक्सली महाराज प्रमाणिक के दस्ते के दो नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार नक्सलियों में गंगाराम उर्फ गोंचे और सोयना सरदार शामिल है।

नक्सली (Naxali) गंगाराम कुचाई के बांडी का रहने वाला है, जबकि सोयना सरदार खरसावां के चैतनपुर का रहने वाला है। ये दोनों महाराज प्रमाणिक के इशारे पर 21 जून की देर रात कुचाई और खरसावां थाना क्षेत्र में प्रशासन और सरकार के खिलाफ पोस्टर लगा रहे थे।

छत्तीसगढ़: नारायणपुर में नक्सलियों किया IED विस्फोट, एक जवान घायल

खरसावां थाना प्रभारी सनोज चौधरी के मुताबिक, पूछताछ में गंगाराम व सोयना सरदार ने बताया कि दोनों नक्सली कमांडर महाराजा प्रमाणिक के दस्ते के सक्रिय सदस्य हैं और क्षेत्र में ग्रामीणों को सरकार एवं प्रशासन के खिलाफ भड़काने का काम करते हैं।

खरसावां व कुचाई थाना क्षेत्र में ग्रामीणों को सरकार एवं प्रशासन के खिलाफ भड़काने के लिए पोस्टर चिपकाने में उनकी सक्रिय भूमिका रहती है। ये दोनों नक्सली कमांडर के इशारे पर क्षेत्र में आतंक फैलाने के लिए ग्रामीणों को धमकी देते हैं और नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ पुलिस को सूचना देन वालों को डराते-धमकाते हैं।

खरसावां थाना प्रभारी के अनुसार, गिरफ्तार नक्सली अपने दस्ते को पुलिस की गतिविधियों की जानकारी भी देते हैं। साथ ही नक्सली वारदातों को अंजाम देने में वे दस्ते के साथ शामिल रहते हैं। महाराज प्रमाणिक के कहने पर ही वे कुचाई एवं खरसावां नक्सल प्रभावित क्षेत्र में सरकार व प्रशासन के खिलाफ नक्सली पोस्टर चिपका रहे थे, लेकिन पुलिस के गश्ती दल ने उन्हें रंगे हाथों पकड़ लिया। पुलिस ने इन नक्सलियों (Naxals0 के खिलाफ मामला दर्ज कर जेल भेज दिया है।