छत्तीसगढ़: सुकमा में 3 नक्सली मिलिशिया सदस्य गिरफ्तार, जवानों को निशाना बनाने के लिए प्लांट किया था आईईडी

एंटी नक्सल अभियान (Anti Naxal Operation) के तहत सीआरपीएफ (CRPF) की 212वीं वाहिनी, डीआरजी (DRG) और जिला बल की संयुक्त कार्रवाई में तीन नक्सलियों (Naxalites) को गिरफ्तार कर लिया गया।

TSPC Naxalites

सांकेतिक तस्वीर

गोलापल्ली अस्पताल के पास रास्ते पर सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाने के लिए अन्य नक्सलियों (Naxalites) के साथ आईईडी लगाने की घटना में शामिल थे।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सुकमा (Sukma) जिले में चलाए जा रहे एंटी नक्सल अभियान (Anti Naxal Operation) के तहत सीआरपीएफ (CRPF) की 212वीं वाहिनी, डीआरजी (DRG) और जिला बल की संयुक्त कार्रवाई में गोल्लापल्ली थाना के तारलागुड़ा से तीन नक्सलियों (Naxalites) को गिरफ्तार कर लिया गया।

गिरफ्तार नक्सलियों में मल्लम हिरमा, मड़कम सुरेश और कारम लच्छा शामिल हैं। ये नक्सली सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाने के लिए आईईडी (IED) लगाने, सड़क काटने सहित अन्य नक्सली घटनाओं में शामिल रहे हैं। तीनों नक्सलियों को सुकमा न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया।

झारखंड: हजारीबाग में TSPC नक्सलियों का उत्पात, सड़क निर्माण स्थल पर की फायरिंग; पर्चा फेंक दी धमकी

एसपी सुनील शर्मा के अनुसार, मुखबिर की सूचना पर डीआरजी और सीआरपीएफ के जवानों ने तारलागुड़ा के पास 3 संदिग्धों को पकड़ा। पूछताछ करने पर उन्होंने अपने नाम बताए और नक्सली संगठन में मिलिशिया सदस्य के तौर पर काम करना कबूल किया।

ये भी देखें-

पूछताछ में तीनों नक्सलियों ने यह भी स्वीकार किया कि वे गोलापल्ली थाना क्षेत्र में 28 अगस्त को गोलापल्ली अस्पताल के पास रास्ते पर सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाने के लिए अन्य नक्सलियों (Naxalites) के साथ आईईडी लगाने की घटना में शामिल थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें