छत्तीसगढ़: सुरक्षाबलों की मुस्तैदी से टला बड़ा हादसा, नक्सलियों ने प्लांट किया था आईईडी

दंतेवाड़ा के एसपी अभिषेक पल्लव ने इसकी पुष्टी करते हुए बताया कि जिला मुख्यालय से करीब 3 किलोमीटर दूर पुरनतरई गांव के पास मुख्य सड़क पर नक्सलियों ने आईईडी लगाया था। यह सड़क फरसपाल जाती है जो वर्तमान विधायक देवती कर्मा का गांव है।

naxal, Naxal plot failed, 10 kg of IED recovered, Naxalites planted IED, dantewada, chhattisgarh, sirf sach, sirfsach.in

पुलिस नें छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में 10 किलो आईईडी बरामद किया।

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर के दंतेवाड़ा जिले में एक बड़ा विस्फोट होते-होते रह गया। दरअसल, जिला मुख्यालय से लगभग 3 किलोमीटर दूर मेन रोड पर नक्सलियों ने आईईडी लगाया था। 18 जुलाई की सुबह सर्चिंग के दौरान सुरक्षाबलों ने नक्सलियों द्वारा सड़क पर लगाए गए आईईडी को बरामद किया। माना जा रहा है कि नक्सलियों ने 10 किलोग्राम का यह आइईडी पुलिस बल को निशाना बनाने के लिए सड़क के बीचों-बीच लगाया था।

दंतेवाड़ा के एसपी अभिषेक पल्लव ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि जिला मुख्यालय से करीब 3 किलोमीटर दूर पुरनतरई गांव के पास मुख्य सड़क पर नक्सलियों ने आईईडी लगाया था। यह सड़क फरसपाल जाती है जो वर्तमान विधायक देवती कर्मा का गांव है। जवान सर्चिंग पर निकले थे, इसी दौरान उन्हें सड़क पर तार के कुछ टुकड़े नजर आए। बम निरोधक दस्ते ने जब वहां जांच की तो 10 किलो का आईईडी बरामद हुआ, जिसे मौके पर ही डिफ्यूज कर दिया गया। घटना के बाद क्षेत्र में जांच की जा रही है।

गौरतलब है कि नक्सलवाद के खात्मे के लिए पुलिस लगातार नक्सलियों की धर-पकड़ कर रही है। हाल के दिनों में हुए मुठभेड़ों में कई नक्सली मारे गए हैं। इसके अलावा कई नक्सली गिरफ्तार हुए हैं। साथ ही कई बड़े नक्सलियों ने सरेंडर भी किया है। इससे नक्सली संगठन अब कमजोर पड़ने लगे हैं। सुरक्षाबलों की कार्रवाई से बौखलाए नक्सली आए दिन इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के सुकमा में ‘चलता-फिरता थाना’, नहीं लगाना पड़ेगा पुलिस स्टेशन का चक्कर

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App